पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Sehore
  • Payment Should Be Made On Time, So It Will Be Purchased On Support Price Only Five Days A Week, In The Remaining Two Days, The Committees Will Calculate The Purchase.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बदले नियम:भुगतान समय से हो इसलिए सप्ताह में पांच दिन ही होगी समर्थन मूल्य पर खरीदी, बाकी के दो दिनों में समितियां खरीदी का हिसाब मिलाएंगी

सीहोर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • किसानों को उनकी उपज का पैसा समय से मिले इसलिए अधिकारियों की जिम्मेदारी तय

समर्थन मूल्य पर गेहूं व चना खरीदी के लिए इस साल सरकार ने सप्ताह में दिनों की कटौती की है। इस बार सप्ताह में केवल 5 दिन ही किसानों से दोनों उपज की खरीदी की जाएगी। शेष दो दिनों में समितियां खरीदी का हिसाब मिलाएंगी। भुगतान के लिए भुगतान पत्रक आदि तैयार करेगी।

नए निर्देशों में तय किया गया कि सप्ताह के 5 दिन में खरीदी के साथ-साथ उपज का परिवहन भी कराया जाएगा। जिससे घटत न आए। वहीं समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने वाले किसानों से समितियां, बकाया ऋण की पूरी वसूली भी करेगी। गेहूं, चना खरीदी की जिले में औपचारिक शुरुआत हो गई है। इस बार सोमवार से शुक्रवार तक ही खरीदी होगी।

शनिवार, रविवार को समितियां उपज का परिवहन कराएंगी। खरीदी गई उपज के भुगतान पत्रक, बिल तैयार करेगी। बीते साल लॉकडाउन के बावजूद सातों दिन खरीदी की थी। परिवहन भी चलता रहा। बता दें कि इस साल जिले में एक लाख 15 हजार 178 किसानों ने समर्थन मूल्य पर अपनी उपज बेचने के लिए पंजीयन कराए थे।

जबकि पिछले साल मात्र 89 हजार 200 किसानों ने पंजीयन कराया था। यानी कि इस साल 25 हजार 978 ज्यादा किसानों ने पंजीयन करवाए हैं। पिछले साल जिले में 4 लाख 70 टन खरीदी का लक्ष्य रखा गया था, जबकि 7 लाख 43 हजार टन खरीदी हुई थी। इस साल जिले में 7.50 लाख टन खरीदी का लक्ष्य है।

5563 किसानों से 46 हजार 117 टन गेहूं की खरीदी : बुधवार को जिले में समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी हुई। जिला आपूर्ति अधिकारी के अनुसार बुधवार को जिले के अलग-अलग केंद्रों पर कुल 5 हजार 563 किसानों से 46 हजार 117 टन गेहूं की की गई है। कलेक्टर अजय गुप्ता के निर्देशों पर सभी केंद्रों का निरीक्षण किया जा रहा है।

मैसेज के बाद उपज बेचने 7 दिन का समय
मैसेज मिलने के बाद अगले 7 दिन में किसान कभी भी उपज बेचने केंद्र पर ला सकेंगे। यदि कोई किसान 7 दिन में भी किसी कारणवश उपज का तौल नहीं करा पाया तो उस केंद्र पर उपज बेचने के लिए मैपिंग और पंजीकृत किसानों का एक राउंड पूरा होने के बाद दूसरा मौका मिलेगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें