पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पारे में उतार-चढ़ाव...:फसलों का उत्पादन घटेगा 16 साल में इस बार नवंबर में 120 से कम रहा पारा

सीहोर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मौसम का असर }फसलों पर तेज सर्द हवा का असर यह कि पौधों के पत्ते मुरझाने लगे हैं

नवंबर में तापमान में बार-बार उतार-चढ़ाव अभी तक देखने को नहीं मिला है। इस बार कभी तापमान में बढ़ोतरी हो रही है तो कभी इतनी गिरावट कि पिछले 16 सालों में कभी ऐसा नहीं देखा गया। मौसम में हो रहे इस बदलाव से यह माना जा रहा है कि फसलों के अलावा लोगों के स्वास्थ्य पर भी इसका असर देखने को मिलेगा। वहीं जिला अस्पताल में भी मरीजों की संख्या में वृद्धि हो रही है जहां पहले अोपीडी में 200 मरीज ही आ रहे थे अब 350 मरीज सर्दी-खांसी और बुखार के आ रहे हैं। शुक्रवार को अधिकतम तापमान जहां 26 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया तो वहीं न्यूनतम तापमान 10.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। 15 किमी से अधिक गति से चल रही हवा के कारण शुक्रवार सुबह धुंध छाई रही। मौसम विभाग की मानें तो हल्की बारिश की संभावना है। इस बार नवंबर में तापमान में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। कभी ऊपर तो कभी कम तापमान रिकॉर्ड किया जा रहा है। इससे फसलों पर बुरा असर देखने को मिल सकता है। हालांकि पहले ऐसा मौसम कभी नहीं देखा गया। कम से कम नवंबर में तापमान में इस तरह का उतार-चढ़ाव नहीं होता है।

रात में बढ़ोतरी और दिन को गिरेगा तापमान, हल्की बारिश की उम्मीद
आरएके कॉलेज स्थित मौसम विभाग के तकनीकी अधिकारी डॉ. एसएस तोमर ने बताया कि रात के तापमान में बढ़ोतरी होगी। इसी तरह दिन के तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी। यानि आने वाले दिनों में दिन ठंडे हो जाएंगे। आने वाले दिनों में हल्की बारिश हो सकती है। सुबह के समय छाई धुंध गुरुवार रात से ही तेज हवा चलना शुरू हो गई थीं। शुक्रवार सुबह हालत यह थी कि इन तेज हवा ने मौसम में बदलाव ला दिया।

स्थिति... नवंबर में 12 डिग्री से नीचे नहीं जाता था रात का तापमान
पिछले 16 सालों के तापमान की बात करें तो इस दौरान कभी भी नवंबर माह में 12 से 13 डिग्री सेल्सियस के नीचे तापमान रिकार्ड नहीं किया जा सका है। जबकि इस बार तो 2 नवंबर को ही 10 डिग्री तापमान दर्ज किया गया और बाद में यह 8.5 डिग्री सेल्सियस तक आ गया। यानि तापमान में लगातार गिरावट देखी जा रही है। हालांकि इसी बीच तापमान में बढ़ोतरी भी देखी गई। पहले तापमान गिरा और बाद में बढ़ोतरी हुई।

फसलों पर पड़ सकता है बुरा असर
मौसम का फसलों पर बुरा असर पड़ सकता है। क्योंकि इस बार तापमान में कमी तो कभी बढ़ोतरी पौधों की बढ़वार को भी प्रभावित कर सकती है लेकिन बाद में उत्पादन भी इसका असर पड़ सकता है। इसलिए तापमान में बार-बार उछाल और गिरावट नहीं होना चाहिए। इस संबंध में आरएके कॉलेज स्थित मौसम विभाग के तकनीकी अधिकारी डॉ. एसएस तोमर ने बताया कि मौसम में बार-बार उतार चढ़ाव देखने को मिल रहा है। इससे फसलों को तो नुकसान होगा।

फसलों पर जमने लगी ओस

सुबह के समय तेज हवा के कारण अब फसलों पर ओस जमने लगी है। कई जगह तो तेज ठंड होने से फसलों के पत्ते कुमलने लगे हैं। शुक्रवार को भी पचामा के पास खेतों में खड़ी फसल पर ओस जमी हुई देखी गई। इस समय तेज हवा भी चल रही ही थी।

इस तरह है तापमान में उतार-चढ़ाव की स्थिति
दिनांक न्यू. अधि.

13 नवंबर 16.5 28.2
14 नवंबर 16.0 28.5
15 नवंबर 16.5 27.5
16 नवंबर 17.2 28.5
17 नवंबर 19.5 32.8
18 नवंबर 19.5 31.5
19 नवंबर 20.0 31.0
20 नवंबर 17.0 30.0
21 नवंबर 10.0 26.0
22 नवंबर 08.5 25.0
23 नवंबर 10.5 26.5
24 नवंबर 10.2 28.5
25 नवंबर 09.5 26.5​​​​​​​

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser