फिर बढ़ा काेरोना का खतरा:एक दिन पहले जो युवती एंटीजन टेस्ट में कोरोना संक्रमित आई थी, दूसरे दिन आरटीपीसीआर टेस्ट में निगेटिव

सीहोर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • काेराेना का खतरा-सैंपलिंग बढ़ी, वैक्सीनेशन घटा, सभी मेले प्रतिबंधित, एंटीजन टेस्ट पर रोक

कोरोना के ओमिक्रॉन की दहशत के बीच गुरुवार को अच्छी खबर यह है कि एक दिन पहले आष्टा की जो युवती एंटीजन टेस्ट में कोरोना पॉजिटिव आई थी, गुरुवार को आरटीपीसीआर टेस्ट में उसी युवती की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इससे राहत मिली है। हालांकि प्रशासन ने अपने स्तर पर सख्ती शुरू कर दी है। गुरुवार को कलेक्टर और एसपी खुद बाजार में निकले और लोगों को कोरोना जांच की समझाइश दी। इस दौरान बिना मास्क लगाने वालों पर जुर्माना भी लगाया गया। बुधवार काे कोरोना संक्रमण का मामला सामने आने के बाद प्रशासन हरकत में आया। सुबह से ही जिले के सभी अधिकारियों के साथ कलेक्टर ने बैठक ली। इस दौरान कलेक्टर ने सैंपलिंग की संख्या बढ़ाने और मास्क नहीं लगाने वालों पर सख्ती के निर्देश दिए। अब तक जिले में जहां 700 से 800 लोगों के सैंपल लिए जा रहे थे, वहीं अब जिले में हर दिन 1200 से 1400 लोगों के सैंपल लिए जाना है। इसके साथ ही हर ब्लॉक में कोविड केयर सेंटर शुरू करने के निर्देश भी वीसी में दिए गए। सीहोर जिला अस्पताल में 150 बेड और बुदनी में 300 बेड का हॉस्पिटल शुरू करने के निर्देश कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने सीएमएचओ को दिए। जिले में सभी प्रकार के मेलाें काे प्रतिबंधित किया है। विवाह आयोजनों में दोनों पक्षों के मिलाकर अधिकतम 250 लोगों की उपस्थिति की अनुमति दी है। जबकि अंतिम संस्कार, उठावना में अधिकतम 50 लोगो को ही अनुमति दी जा सकेगी।

स्कूलों में वैक्सीनेशन की रफ्तार कमजोर...6300 को लगा टीका
जिस रफ्तार से स्कूलों में वैक्सीनेशन शुरू हुआ था उसकी रफ्तार आष्टा में युवती की संक्रमित होने की रिपोर्ट से थम गई। कोरोना संक्रमण सामने आने पर लोगों में दहशत फैल गई और कई अभिभावकों ने अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजा। ऐसे में गुरुवार को जिले में मात्र 6301 बच्चों को ही वैक्सीन लगाई जा सकी है। जबकि एक दिन वहले बुधवार को 9691 बच्चों को वैक्सीन लगी थी। मंगलवार को 18 हजार 218 बच्चे और सोमवार 3 जनवरी को 25 हजार 295 बच्चों को वैक्सीन लगाई गई थी। अब तक जिले में 59 हजार 505 बच्चों को वैक्सीन का पहला डोज लगाया गया है।

सीहोर से ज्यादा आष्टा में कार्रवाई, 151 के चालान
गुरुवार को मास्क न लगाने वालों के खिलाफ सख्ती की गई। सीहोर में पूरे दिन में जहां 110 लोगों के खिलाफ चालानी कार्रवाई करते हुए 11 हजार रुपए का जुर्माना वसूला गया, वहीं आष्टा में 151 लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 15 हजार 100 रुपए का जुर्माना वसूला गया। ऐसे में खुद कलेक्टर सीएम ठाकुर और एसपी मयंक अवस्थी शाम 6.30 बजे बाजार में आए और लोगों को मास्क पहनने की समझाइश दी। कुछ लोगों को मास्क भी बांटे गए। इस दौरान भी मास्क न पहनने वालों के खिलाफ चालानी कार्रवाई की गई।

ब्लॉक के हर अस्पताल में तीन माह तक की दवाएं पहुंचाईं
जिला स्तर पर 150 बेड का कोविड केयर सेंटर, बुदनी में 300 बेड का हॉस्पिटल शुरू करने के निर्देश भी दिए। 20-20 बेड के 3 बलून हॉस्पिटल रेहटी, नसरुल्लागंज और बकतरा में शुरू करने के निर्देश दिए गए। इसके साथ ही श्यामपुर, दोराहा ओर बिलकिसगंज में 10-10 , इछावर में 20, आष्टा में 30 तथा नसरुल्लागंज में 20 ऑक्सीजन सपोर्ट बेड की व्यवस्था है। सीएमएचओ डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि जिले में किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए तैयारी पूरी है, करीब 3 महीने के हिसाब से दवाएं एवं अन्य सामग्री भी उपलब्ध है।

जिले में 946 के लिए सैंपल
आष्टा ब्लॉक में कोरोना संक्रमित युवती सामने आने के बाद अब स्वास्थ्य विभाग ने सैंपलिंग भी बढ़ा दी है। गुरुवार को जिलेभर में 846 लोगों के सैंपल कोरोना जांच के लिए भेजे गए। इससे एक दिन पहले बुधवार को जिलेभर में कोरोना जांच के लिए 853 लोगों के सैंपल लिए गए थे। अब तक जिले में कुल 10 हजार 144 संक्रमित सामने आए हैं। इनमें से 122 की मौत हो गई, जबकि 10 हजार 21 स्वस्थ्य हैं। बता दें कि जिले में अब तक कुल 3 लाख 29 हजार 347 लोगों के सैंपल कोरोना जांच के लिए लिए गए थे।

आपदा प्रबंधन की बैठक होगी

खबरें और भी हैं...