पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

श्राद्ध पक्ष:सर्वपितृ मोक्ष अमावस्या आज भूले-बिसरों का होगा श्राद्ध

सीहोर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

श्राद्ध पक्ष में सभी पितर धरती पर अपने परिवारों में आकर धूप-ध्यान, तर्पण आदि ग्रहण करते हैं, जो अमावस्या पर पितृलोक में चले जाते हैं। सर्व पितृमोक्ष अमावस्या गुरुवार को है। यह पितृ पक्ष की अंतिम तिथि है। इसके साथ ही श्राद्ध खत्म हो जाएंगे। यदि पूरे पितृपक्ष में किसी का श्राद्ध करना भूल गए हैं या मृत व्यक्ति की तिथि मालूम नहीं है तो इस तिथि पर उनके लिए श्राद्ध किया जा सकता है। पं. गणेश शर्मा ने बताया कि जब कुंडली में पितृदोष, गुरु चांडाल योग, चंद्र या सूर्य ग्रहण योग हो तो इस दिन विशेष उपाय किए जा सकते हैं। मान्यता है कि पितृपक्ष में सभी पितर देवता धरती पर अपने-अपने कुल परिवारों में आते हैं। श्राद्ध पक्ष में पूर्वजों का स्मरण, उनकी पूजा करने से उनकी आत्मा को शांति मिलती है। साथ ही किसी मृत सदस्य का श्राद्ध करना भूल गए हैं तो उनके लिए अमावस्या पर श्राद्ध कर्म किए जा सकते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें