पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Sironj
  • Arun Yadav, Who Came To Inaugurate 6 Months After The Start Of The Gaushala, Spoke In The Meeting Only 5 Minutes If The Chairs Were Empty

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कार्यक्रम:गोशाला शुरू होने के 6 माह बाद उद्घाटन करने भोरिया आए अरुण यादव, सभा में कुर्सियां थीं खाली तो 5 मिनट ही बोले

सिरोंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रशासन की अनुमति के बिना ही रखी थी किसान आमसभा, गोशाला का कमलनाथ ने किया था भूमिपूजन

भौरियां गांव की जिस गोशाला का भूमिपूजन 5 मार्च 2019 को पूर्व सीएम कमलनाथ ने विदिशा में किया था और जो 21 जून 2020 से शुरू भी हो गई। उसका उद्घाटान पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष अरुण यादव ने मंगलवार को किया।

वे ब्लाक कांग्रेस कमेटी द्वारा आयोजित किसान आमसभा में शामिल होने के लिए सिरोंज आए थे। उनके साथ पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह, युवा कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष विक्रांत भूरिया, विदिशा विधायक शशांक भार्गव, पूर्व मंत्री प्रभुसिंह ठाकुर और जिलाध्यक्ष कमल सिलाकारी समेत अनेक नेता साथ थे। ये सभी सबसे पहले 12 किमी दूर स्थित भौरियां गांव पहुंचे। यहां पर सरपंच ने गांव में बनी गोशाला का उद्घाटन कार्यक्रम रखा था। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार गोशाला का उद्घाटन करने के बाद सभी नेताओं को किसानों की ट्रैक्टर रैली में शामिल होना था। वे सभी मंच से उस स्थान पर पहुंचे जहां पर ट्रैक्टर खड़े हुए थे। ये सभी नेता एक ट्रैक्टर पर बैठे और फोटो खिंचवा कर वापस अपनी गाड़ियों में बैठ गए। यहां से वे अपनी ही गाड़ियों से सिरोंज नगर तक आए।

बासौदा तिराहे तक कार में गए, फिर ट्रैक्टर में बैठे
जब ये नेता बासौदा नाका तिराहे पर आए तो फिर से ट्रैक्टर-ट्राॅली पर सवार हो गए। यहां से अरुण यादव खुद ट्रैक्टर चलाते हुए 1 किमी दूर पुराना बस स्टैंड पर आयोजित सभा स्थल पर पहुंचे और किसान आमसभा को संबोधित किया। शाम 4 बजे शुरू हुई कांग्रेस की यह सभा शाम 5.30 बजे खत्म हुई। कई बार मंच संचालक विकास शर्मा ने वक्ताओं को कम शब्दों में बात रखने कहा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। मुख्य वक्ता अरुण यादव जब बोलने के लिए खड़े हुए अधिकांश कुर्सियां खाली हो गई थीं । वे सिर्फ 5 मिनट तक ही अपनी बात रख सके। इस दौरान दिल्ली आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों के लिए दो मिनट का मौन भी रखवाया।

डेढ़ साल से जपं कार्यालय में रखी है शिलान्यास पटि्टका
भौरिया गांव की गोशाला का भूमिपूजन 5 मार्च 2019 को पूर्व सीएम कमलनाथ ने विदिशा में किया था। इसके बाद पंचायत ने तेज गति से काम किया और साल भर में ही यह बनकर तैयार हो गई। शासकीय पत्र के अनुसार 21 जून 2020 को गोशाला का संचालन भी प्रारंभ हो गया था। 15 नवंबर 2020 को सिरोंज की 5 अन्य गोशालाओं के अलावा भोरिया गोशाला को भी संचालन और भूसा आदि के लिए 1 लाख 27 हजार रुपए जिला सीईओ द्वारा प्रदान किए गए है।

वर्तमान में इस गोशाला में 80 से अधिक गाए हैं। पंचायत ने 6 महीने बाद गोशाला का उद्घाटन तो करवा लिया लेकिन सीएम द्वारा किए गए शिलान्यास की पट्टिका करीब डेढ़ साल बाद मंगलवार शाम तक सिरोंज जनपद पंचायत कार्यालय में ही रखी हुई है।

दिल्ली में बैठे किसानों को सम्पूर्ण समर्थन हमें देना होगा, आज से प्रदेश का किसान भी करेगा कूच
कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव ने कहा कि हमारे यहां आज आने का मकसद तय है। केन्द्र की भाजपा सरकार उद्योगपतियों के हाथों में किसानों की जमीन को गिरवी रखना चाहती है। किसान बिल के विरोध में देश का अन्नदाता 35 दिनों से दिल्ली में बैठा है लेकिन केन्द्र सरकार चुप है। उन किसानों को हमें सम्पूर्ण समर्थन देना है। आज से मप्र का किसान भी दिल्ली जाएगा।

मप्र में भी किसान आंदोलन शुरू: पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह ने कहा कि सिरोंज की इस किसान आमसभा के माध्यम से आज से मप्र में भी किसान आंदोलन शुरू हो गया है। इंदिरा जी ने हर ग्रामवासी को जमीन का अधिकार दिया था लेकिन आज की सरकार किसानों की जमीन को निजी हाथों में सौंपना चाहती है। अब 20 जनवरी को भोपाल में आयोजित विशाल किसान आमसभा में पहुंचना है। किसानों की लड़ाई लड़ने युवा आगे आएं: युवा कांग्रेस के नवनिर्वाचित प्रदेशाध्यक्ष विक्रांत भूरिया ने कहा कि युकां चुनाव के बाद मेरी पहली सभा सिरोंज में ही हो रही है।

किसानों की लड़ाई में हर युवा की लड़ाई है। इसलिए युवा किसान की लड़ाई लड़ने आगे आएं। अजा नेता बोले, मुझे खुद बोलना पड़ा ये ठीक नहीं: बड़े नेताओं के वक्तव्य के बीच ही अनुसूचित जाति वर्ग के प्रमुख नेता सुभाष बोहत को बोलने का मौका मिला तो उन्होंने पीड़ा जाहिर करते हुए कहा अजा वर्ग का नेता हूं लेकिन यहां बोलने के लिए मुझे खुद संचालक से बोलना पड़ा।

कोविड गाइड लाइन, सभा की अनुमति नहीं दी गई थी
सभा के बाद कांग्रेस जिलाध्यक्ष कमल सिलाकारी ने राष्ट्रपति को संबोधित एक ज्ञापन भी एसडीएम को सौंपा। इसमें उन्होंने किसान बिल को वापस लेने की मांग की है। एसडीएम अंजली शाह ने बताया कि कांग्रेस नेताओं ने ज्ञापन सौंपा है। कोविड-19 की गाइड लाइन को ध्यान में रखते हुए सभा की अनुमति हमने उन्हें नहीं दी थी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें