पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Vidisha
  • 120 Gaushalas With 12 Thousand Capacity Approved, Work Continues On 69 But About 25 Thousand Cattle On The Roads In The District

गोशालाओं के हालात:12 हजार क्षमता वाली 120 गोशालाएं मंजूर, काम 69 का जारी पर जिले में करीब 25 हजार मवेशी सड़कों पर

विदिशा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सुआखेड़ी की गोशाला में 12 मवेशियों की मौत, जिले भर में अभी तक 28 मुख्यमंत्री गोशालाएं शुरू करने का दावा

कांग्रेस की पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार के कार्यकाल में मुख्यमंत्री गोशाला योजना के तहत विदिशा जिले में 120 गोशालाएं मंजूर हुई थीं। प्रत्येक गोशाला में 100 मवेशी रखने की व्यवस्था करनी है। इस तरह यदि सभी 120 गोशालाएं बनकर तैयार हो जाएंगी तो उनमें अधिकतम 12000 मवेशी ही रखे जा सकेंगे। इसके विपरीत जिले भर में इस समय 25000 से अधिक आवारा मवेशी अभी भी सड़कों पर हैं। सबसे बड़ा सवाल यही है कि सभी गोशालाएं चालू होने के बाद भी 13000 से अधिक आवारा मवेशी आखिर कहां जाएंगे। उनके लिए क्या इंतजाम रहेंगे। विदिशा नगरपालिका द्वारा हाल ही में सभी 39 वार्डों के सर्वे में 4000 से अधिक आवारा मवेशी पाए गए हैं। यही आवारा मवेशी सड़क हादसों का सबब बनते हैं। जिला प्रशासन के मुताबिक अभी तक 69 गोशालाओं का निर्माण कार्य चालू हो गया है। 28 गोशालाएं रनिंग कंडीशन में हैं जिनमें मवेशी रखे जा रहे हैं। गोशालाओं के संचालन के लिए जो समिति बनी है। उनके लिए कर्मचारियों को 5 महीने से एक धेला भी नहीं मिला है। कर्मचारियों को मानदेय भी नहीं दिया जा रहा है। चारा और पानी का इंतजाम करने कर्मचारी पाई-पाई को मोहताज हो रहे हैं।

गोशाला योजना की स्थिति
तहसील स्वीकृत काम चालू

गंजबासौदा 15 10
ग्यारसपुर 18 09
कुरवाई 23 11
लटेरी 10 04
नटेरन 16 11
सिरोंज 21 19
विदिशा 17 05
कुल 120 69

50 एकड़ जमीन होने के बाद भी नहीं बनी गोशाला
विदिशा में पठारी हवेली के पास प्रशासन ने करीब 50 एकड़ जमीन स्वीकृत की थी। यहां नपा की गोशाला बनाने की योजना थी, लेकिन अभी तक नहीं बनी है। हालांकि विदिशा एसडीएम गोपालसिंह वर्मा का दावा है कि विदिशा तहसील में 5 गोशालाएं बनकर तैयार हो गई हैं। 15 बनने तैयार होने की प्रक्रिया में हैं।
सुआखेड़ी की गौशाला में 12 मवेशियों की मौत : सागर रोड पर ग्राम अटारी खेजड़ा के पास सुआखेड़ी की गौशाला में पिछले महीने 12 मवेशी भूख से मर चुके हैं। अन्य गौशालाओं में भी यही स्थिति है। इस मामले में विधायक शशांक भार्गव ने प्रशासन को पत्र लिखकर भूसा और दाने का बेहतर इंतजाम करने को कहा है।

विधायक बोले- भाजपा सरकार ने कम कर दिया बजट
विधायक शशांक भार्गव ने कहा कि कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने प्रति मवेशी की खुराक के लिए 20 रुपए मंजूर किए थे, लेकिन भाजपा की सरकार ने उसे कम करके 1 रुपए 80 पैसे प्रति खुराक कर दिया। मुख्यमंत्री गोशाला योजना को पलीता लगाया जा रहा है। भूसा और दाना की कमी से मवेशी भूखे मर रहे हैं।

कलेक्टर ने मंजूर किया है 65 लाख रुपए का बजट
^प्रति मवेशी भूसा के लिए 15 और दाना के लिए 5 रुपए के हिसाब से खुराक मंजूर होती है। अभी तक बजट की कमी थी, लेकिन बुधवार को ही कलेक्टर ने गोशालाओं के लिए 65 लाख रुपए का बजट मंजूर किया है। उससे पूरा इंतजाम किया जाएगा।
-एससीएल वर्मा, उप संचालक पशु चिकित्सा सेवा, विदिशा

120 में से चालू हो गई हैं 28 गोशालाएं
जिले में 120 में से 28 गोशालाएं चालू हो गई हैं। प्रत्येक गोशाला में अधिकतम 100 मवेशी रखने का इंतजाम किया गया है। बजट की कमी से मानदेय नहीं मिल रहा था, लेकिन बुधवार को इसके लिए बजट जारी कर दिया गया है।
-डाॅ.पंकज जैन, कलेक्टर विदिशा।

खबरें और भी हैं...