• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Vidisha
  • Dismissing employment in lockdown brought the daughter's relationship to the brink, then the people of the city came together and raised the cost of marriage

मदद / लॉकडाउन में रोजगार छीनने से बेटी का रिश्ता भी आया टूटने की कगार पर, तब शहर के लोगों ने मिलकर विवाह का खर्चा उठाया

Dismissing employment in lockdown brought the daughter's relationship to the brink, then the people of the city came together and raised the cost of marriage
X
Dismissing employment in lockdown brought the daughter's relationship to the brink, then the people of the city came together and raised the cost of marriage

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

विदिशा. लॉकडाउन में कई लोगों का रोजगार छिन गया तो कई लोग अब भी परेशान हैं। ऐसे ही एक मामले में लॉकडाउन में परिवार का रोजगार छिन गया था। इसलिए वे बेटी का विवाह नहीं कर पा रहे थे। 
वहीं वर पक्ष का कहना था कि इसी महीने शादी करेंगे, वरना रिश्ता तोड़ देंगे। तब शहर के लोग मदद करने आगे आए और बेटी का विवाह कराया। इस बात की जानकारी पिपलेश्वर मंदिर समिति के अध्यक्ष संतोष शर्मा को लगी तो उन्होंने सभी समिति सदस्यों के साथ मिलतर लड़की के विवाह का सारा खर्च उठाया और मंगलवार को लड़की का विवाह कराया।

इस साल शादी के लिए किया मना तो लड़के वाले नहीं माने, रिश्ता तोड़ने को कहा
बेहलोट के रघुवीर सिंह कुशवाह मजदूरी करते हैं और उनकी पत्नी शादी समारोह में पूड़ी बेलती है । उन्होंने बेटी संगीता का रिश्ता सिरोंज तहसील के पथरिया थाने के शाहपुर निवासी रामसिंह के बेटे से अपनी बेटी का रिश्ता तय किया था। लेकिन कोरोना के कारण वे मजदूरी कर रुपए एकत्रित नहीं कर पाए थे। इस वजह से वे इस वर्ष शादी के लिए मना कर रहे थे। इधर लड़के वाले इसी जिद पर अड़े थे कि शादी जून में ही करेंगे वरना रिश्ता खत्म कर देंगे।

दहेज में दी पूरी सामग्री
दहेज में वर वधु को कपड़े मंगल सूत्र, पायल, बिछिया के साथ डबल बेड, कूलर, टीवी, सिलाई मशीन, बर्तन सहित परिवार की पूरी सामग्री दी। विदाई के दौरान समिति के पूर्व विधायक हरि सिंह रघुवंशी, राजेश तिवारी, यशवंत रघुवंशी आदि शामिल थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना