पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नवमी का उल्लास:मंदिरों में लगी रही भक्तों की कतार महामाई में महायज्ञ की पूर्णाहुति

विदिशाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अंतिम दिन गूंजे माता रानी के जयकारे,खीर, पुड़ी और हलुए का प्रसाद अर्पित

रविवार को नगर में दिनभर नवमी का उल्लास दिखाई दिया। मंदिरों और झांकी स्थलों पर दोपहर से शुरू हुआ हवन पूजन का सिलसिला देर रात तक चलता रहा। महामाई दरबार में आयोजित श्री चामुंडा दुर्गा महायज्ञ की पूर्णाहुति भी रविवार को हो गई। मां अंबे की आराधना के पर्व नवरात्रि का उल्लास और उत्साह रविवार को चरम पर दिखाई दिया। सुबह से ही माता मंदिरों में श्रद्धालुओं की कतार लगी दिखाई दी। नौ दिन की उपासना के बाद श्रद्धालु माता रानी को खीर, पुड़ी और हलुए का प्रसाद अर्पित करने पहुंच रहे रहे थे। यह कतार देर रात तक मंदिरों में लगी दिखाई दी। क्षेत्र की आराध्य महामाई माता के दरबार के साथ ही नयापुरा स्थित महामाई का मायका मंदिर, कठाली बाजार स्थित शीतला माता मंदिर, पहाड़ पर स्थित मां भद्रकाली मंदिर, कटरा मोहल्ला स्थित माता मंदिर, हाजीपुर स्थित धनेश्वरी माता मंदिर, टोरी मोहल्ला स्थित मां चांदला शीतला मंदिर, छतरी चौराहा हनुमान मंदिर में स्थित माता रानी के मंदिर, पंचकुईया स्थित शीतला माता मंदिर, कस्टम पथ स्थित पालीवाल कालोनी स्थित हरसिद्धी माता मंदिर, सतखनी स्थित बीजासन माता मंदिर के साथ ही सभी मंदिरों में दिनभर भक्तों की भीड़ लगी दिखाई दी। श्रद्धालुओं ने घरों में भी नवमी की पूजा की।

महायज्ञ की पूर्णाहुति में शामिल हुए सैकड़ों श्रद्धालु
शारदीय नवरात्रि में महामाई माता के दरबार में श्री चामुंडा दुर्गा महायज्ञ का आयोजन भी किया जा रहा था। माता रानी की पहाड़ी के नीचे बनी विशाल यज्ञशाला में आयोजित महायज्ञ में प्रतिदिन आहुति अर्पित की जा रही थी। पंडित नलिनीकांत शर्मा के मार्गदर्शन और सानिध्य में आयोजित महायज्ञ की पूर्णाहुति शनिवार दोपहर में हुई। इस अवसर पर महाप्रसादी का वितरण भी किया गया।

विसर्जन के लिए शाम को पहुंचे अधिकतर श्रद्धालु
प्रशासन द्वारा कैथन डेम के लटेरी रोड पर स्थित हिस्से में मां दुर्गा की प्रतिमा के विसर्जन का प्रबंध किया गया है। यहां पर डैम के किनारे ही निर्मित किए गए कुंड में प्रतिमा विसर्जित की गई। शनिवार को दोपहर तक इक्का-दुक्का प्रतिमाएं ही विसर्जन के लिए पहुंची थी। इससे संभावना बन रही हैं कि अधिकांश झांकी संचालक सोमवार को ही प्रतिमा विसर्जन के लिए आएंगे। कुंड पर दो तैराकों की ड्युटी लगाने के साथ ही पुलिस के चार जवान भी तैनात किए गए है।
झांकी स्थलों पर गूंजे वैदिक मंत्रोच्चारण
नगर में 50 से अधिक स्थानों पर मां दुर्गा की प्रतिमा की स्थापना की गई है। समिति सदस्य माता रानी की विदाई की तैयारियों में जुटे दिखाई दिए। शनिवार को झांकियों में हवन का सिलसिला शुरू हुआ। कुछ ने सुबह हवन किया ।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें