किसानों की मेहनत राख:हार्वेस्टर की चिंगारी से खेतों में आग लगी, फसल जलती देख एक किसान ने हंसिए से काटना शुरू कर दिया

विदिशा7 महीने पहले
खेत में आग लगने के बाद भी किसान फसल बचाने के लिए उसे काटकर पास में पटकता रहा।
  • 3 किसानों के खेत में आग लगी, 50 बीघा फसल के साथ हार्वेस्टर भी जला

मध्यप्रदेश के विदिशा जिले में शनिवार दोपहर गेहूं की फसल में आग लग गई। यहां किसान हार्वेस्टर से फसल कटवा रहे थे। इसी दौरान हार्वेस्टर से चिंगारी निकली और फसल पर गिरी। इससे लगी आग तेजी से खेतों में फैलने लगी। आग की लपटें देख किसान घबरा गए। उनकी फसल आंखों के सामने जल रही थी।

इसी बीच एक किसान अपनी मेहनत बचाने के लिए जलते खेत में उतर गया। आग उसकी फसल को जला रही थी, लेकिन वह हंसिया लेकर अपनी फसल तेजी से काटने लगा। हालांकि, आग के सामने यह कोशिश छोटी साबित हुई। देखते ही देखते करीब 50 बीघा में खड़ी फसल राख हो गई।

मामला शमशाबाद तहसील के पिपरिया गांव का है। लाखों रुपए की फसल के साथ हार्वेस्टर भी पूरी तरह जल गया। गांव के विजय करण हार्वेस्टर से अपनी फसल कटवा रहे थे। अचानक एक जगह फसल में आग लग गई। धीरे-धीरे आग खेत में फैलने लगी। अचानक किसानों को समझ नहीं आया कि क्या करें। इसी दौरान आसपास के कुछ और लोग जुट गए। उन्होंने पेड़ की टहनियों से आग बुझाने की कोशिश की। फायर ब्रिगेड को भी सूचना दी गई। हालांकि दमकल की गाड़ियां आने तक फसल, हार्वेस्टर और ट्रैक्टर जल गए।

खेत में लगी आग से फसल काट रहा हार्वेस्टर भी जल गया।
खेत में लगी आग से फसल काट रहा हार्वेस्टर भी जल गया।

खामखेड़ा चौकी प्रभारी संजय सिंह ने बताया कि किसान विजय करण के खेत में हार्वेस्टर चल रहा था। उसी वक्त यह घटना हुई। आग से विजय करण, पप्पू मीणा और लखनलाल शर्मा की फसल जल गई। मौके पर दो फायर ब्रिगेड पहुंचीं थीं। उन्हें आग बुझाने में करीब डेढ़ घंटे का समय लगा।

खबरें और भी हैं...