पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तकनीकी गड़बड़ी से जान खतरे में:बिजली कंपनी ने 661 के बजाय 22659 रुपए का बिल भेजा तो हार्ट पेंशेंट को आया चक्कर

विदिशाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बिजली कंपनी के कारनामों से उपभोक्ता इस समय काफी हैरान और परेशान हैं। एक उपभोक्ता को बिजली कंपनी के अधिकारियों ने 661 के बजाय 22659 रुपए का बिल भेज दिया। भारी-भरकम बिल देखकर एक हार्ट पेशेंट को चक्कर आ गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार दुर्गानगर गली नंबर 3 निवासी शैलेंद्रसिंह राठौर ने बताया कि वे एक हार्ट पेशेंट हैं।

उनका मई महीने में 613 रुपए का बिल आया था। यह बिल राशि वे समय पर जमा नहीं कर सके तो बिजली कंपनी ने जून महीने में 22659 रुपए का बिल भेज दिया। ज्यादा राशि का बिल देखकर पेशेंट को चक्कर आ गया। इस संबंध में जब बिजली कंपनी शहर जोन-2 के जेई प्रशांत सिंह से उपभोक्ता ने चर्चा की और बताया कि यह गलत बिल आया है।

मैं हार्ट पेशेंट हूं। इस पर उन्होंने कहा कि तकनीकी गड़बड़ी से ऐसा हो सकता है। इसके बाद जब वे 17 जून को दोबारा उनके पास गए तो जेई ने कहा कि इस बिल पर ध्यान मत दो, इसे फाड़कर फेंक दो।

खबरें और भी हैं...