विदिशा में क्रेन से किया माता का विसर्जन:जानकी कुंड और बेतवा नदी में किया जा रहा प्रतिमाओं को विसर्जित, बोट और तैराक दल भी तैनात

विदिशाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

विदिशा में शुक्रवार को विजयादशमी पर्व पर माता का विसर्जन दिन में ही शुरू हो गया। शहर के मुख्य मार्गों पर शुक्रवार को दिन में ही कई प्रतिमाएं बेतवा तट स्थित जानकी कुंड और बेतवा नदी में विसर्जन के लिए जा रही हैं।

इस समय शहर के मुख्य मार्ग बैंड-बाजों पर बजते धार्मिक गीत, धार्मिक धुनों और माताजी के जयकारों से गुंजायमान हैं। दिन में ही बेतवा नदी पर विभिन्न घाटों और जानकी कुंड में मूर्तियों के विसर्जन भी शुरू हो गया है। प्रतिमाओं के विसर्जन के पहले माता की आरती की जा रही है और जयकारा लगाया जा रहा है।

बेतवा के चरणतीर्थ स्थित विभिन्न घाटों और जानकी कुंड में भी मां दुर्गा की प्रतिमाओं का विसर्जन किया जा रहा है। विसर्जन के लिए पूरे शहर में मुख्य मार्गों और चौराहों पर सुरक्षा-व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। वहीं बेतवा नदी के घाट पर भी बोट और तैराक दल तैनात किया गया है।

वहीं विसर्जन कुंड में क्रेन द्वारा मूर्ति विसर्जन किया जा रहा है। विदिशा में होमगार्ड की प्लाटून कमांडर सरिता इक्का ने बताया कि बेतवा के घाट पर बचाव दल बोट और तैराक दल के साथ तैनात किया गया है।