MP: घर बैठे तस्वीरों में कीजिए सिद्धिविनायक का दर्शन:बैतूल में ट्रैफिक पुलिस की वर्दी में नजर आए बप्पा, विदिशा में कॉलेज स्टूडेंट के रूप में बिराजे हैं गणपति, भोपाल, इंदौर और राजगढ़ के गणेश प्रतिमाओं के भी करें दर्शन

मध्यप्रदेशएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कॉलेज स्टूडेंट के रूप गणपति बप - Dainik Bhaskar
कॉलेज स्टूडेंट के रूप गणपति बप

पूरा प्रदेश गणेशोत्सव के रंग में रंगा है। कई जगह गणेशजी की मनमोहक झांकियां लगाई गई हैं। इस दौरान विभिन्न रूपों में गणेशजी की झांकी सजाई गई है। कहीं गणेशजी को ट्रैफिक पुलिसकर्मी तो कहीं बालरूप में सजाया गया है। देखिए प्रदेश में गणेशजी की खूबसूरत प्रतिमाओं की झलक... ।

बैतूल में अंबेडकर चौक पर गणेशजी को ट्रैफिक पुलिसकर्मी के रूप में दिखाया गया है। इसका उद्देश्य लोगों में यातायात जागरूकता लाना है।
बैतूल में अंबेडकर चौक पर गणेशजी को ट्रैफिक पुलिसकर्मी के रूप में दिखाया गया है। इसका उद्देश्य लोगों में यातायात जागरूकता लाना है।
इंदौर में विजय श्री ग्रुप समिति द्वारा बीते 40 सालों से हनुमान चौक जंगमपुरा में गणेश जी की प्रतिमा स्थापित करते आ रहे हैं। आयोजक रोहित हातुनिया ने बताया कि पास में ही हनुमान जी का मंदिर होने से हर साल हनुमान जी के स्वरूप में गणेश जी की प्रतिमा स्थापित की जाती है। इस साल भगवान हनुमान के ऊपर गणेश जी विराजित है। प्रतिमा की ऊंचाई कुल 7 फीट है यह प्रतिमा मिट्टी की है।
इंदौर में विजय श्री ग्रुप समिति द्वारा बीते 40 सालों से हनुमान चौक जंगमपुरा में गणेश जी की प्रतिमा स्थापित करते आ रहे हैं। आयोजक रोहित हातुनिया ने बताया कि पास में ही हनुमान जी का मंदिर होने से हर साल हनुमान जी के स्वरूप में गणेश जी की प्रतिमा स्थापित की जाती है। इस साल भगवान हनुमान के ऊपर गणेश जी विराजित है। प्रतिमा की ऊंचाई कुल 7 फीट है यह प्रतिमा मिट्टी की है।
भोपाल के कान्हा कुंज फेस-2 में मिट्टी की 5 फीट ऊंची मूर्ति विराजित की गई है। गणेशोत्सव समिति के तनुष, लकी, आयूष, पृथ्वी, प्रेम आदि ने बताया कि पर्यावरण के लिहाज से मिट्टी की मूर्ति विराजित की गई है। कान्हा कुंज फेस-2 में सालों से गणेशोत्सव मनाया जा रहा है। कोरोना के चलते पिछले साल स्थापना नहीं कर पाए थे।
भोपाल के कान्हा कुंज फेस-2 में मिट्टी की 5 फीट ऊंची मूर्ति विराजित की गई है। गणेशोत्सव समिति के तनुष, लकी, आयूष, पृथ्वी, प्रेम आदि ने बताया कि पर्यावरण के लिहाज से मिट्टी की मूर्ति विराजित की गई है। कान्हा कुंज फेस-2 में सालों से गणेशोत्सव मनाया जा रहा है। कोरोना के चलते पिछले साल स्थापना नहीं कर पाए थे।
रायसेन शहर के वार्ड नंबर 12 शिवम नगर में गणेश जी की बड़ी संख्या में दर्शन करने आ रहे हैं। भगवान गणेश की झांकी समिति की ओर से पिछले 6 सालों से लगाई जा रही झांकी।
रायसेन शहर के वार्ड नंबर 12 शिवम नगर में गणेश जी की बड़ी संख्या में दर्शन करने आ रहे हैं। भगवान गणेश की झांकी समिति की ओर से पिछले 6 सालों से लगाई जा रही झांकी।
छिंदवाड़ा में गर्भगृह में लालबाग के बादशाह बिराजते हैं। स्टार नवयुवक मंडल की चलित झांकी विशेषता रही है। पिछले 2 वर्षों से कोविड-19 के कारण गर्भ गृह में स्थापना की जा रही है।
छिंदवाड़ा में गर्भगृह में लालबाग के बादशाह बिराजते हैं। स्टार नवयुवक मंडल की चलित झांकी विशेषता रही है। पिछले 2 वर्षों से कोविड-19 के कारण गर्भ गृह में स्थापना की जा रही है।
राजगढ़ के खिलचीपुर दर्जी गली में विराजमान हैं बाप्पा। दर्जी गली में पिछले 40 सालों से गणपति बैठाए जा रहे हैं। इस साल गणेश प्रतिमा अजंता उत्सव समिति की ओर से विराजमान किया गया है।
राजगढ़ के खिलचीपुर दर्जी गली में विराजमान हैं बाप्पा। दर्जी गली में पिछले 40 सालों से गणपति बैठाए जा रहे हैं। इस साल गणेश प्रतिमा अजंता उत्सव समिति की ओर से विराजमान किया गया है।
कटनी में श्री विघ्न विनाशक गणेश मंदिर समिति की ओर से 1977 से भगवान गणेश जी स्थापना की जा रही है। त्रिलोकी नाथ अग्रवाल ने शुरुआत की गई थी। जो अब तक जारी है।
कटनी में श्री विघ्न विनाशक गणेश मंदिर समिति की ओर से 1977 से भगवान गणेश जी स्थापना की जा रही है। त्रिलोकी नाथ अग्रवाल ने शुरुआत की गई थी। जो अब तक जारी है।
विदिशा के बरईपुरा स्थित बीएड कॉलेज में स्थापित हुए हैं गणपति बप्पा। यहां बाल गणेश स्वरूप में गणेश जी विद्यार्थी के रूप में कॉलेज में एडमिशन लेने आए है। बता दें, इस समय कॉलेज में प्रवेश प्रक्रिया चल रही है।
विदिशा के बरईपुरा स्थित बीएड कॉलेज में स्थापित हुए हैं गणपति बप्पा। यहां बाल गणेश स्वरूप में गणेश जी विद्यार्थी के रूप में कॉलेज में एडमिशन लेने आए है। बता दें, इस समय कॉलेज में प्रवेश प्रक्रिया चल रही है।
दतिया के दांतरे की नरिया शिव मंदिर बाग कमेठी की ओर से भगवान गणेश जी की स्थापना की गई है। 4 साल से झांकी लगा रहे हैं।
दतिया के दांतरे की नरिया शिव मंदिर बाग कमेठी की ओर से भगवान गणेश जी की स्थापना की गई है। 4 साल से झांकी लगा रहे हैं।
दमोह के अस्पताल चौराहे पर विराजमान भगवान श्री गणेश की भव्य झांकी। आस्था गणेश उत्सव समिति के द्वारा यहां पर बीते 15 सालों से गणेश प्रतिमा की स्थापना की जा रही है।
दमोह के अस्पताल चौराहे पर विराजमान भगवान श्री गणेश की भव्य झांकी। आस्था गणेश उत्सव समिति के द्वारा यहां पर बीते 15 सालों से गणेश प्रतिमा की स्थापना की जा रही है।
खबरें और भी हैं...