पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

दिक्कत:जय स्तंभ चौक से सिरोंज चौराहे तक सड़क का हिस्सा लोनिवि को सौंपने पत्र लिखेगा आरडीसी

विदिशाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 2 साल से नहीं हुई मरम्मत, सड़क पर जगह-जगह हो गए हैं गड्‌ढे, सिटी के बीच नहीं होता काम

जय स्तंभ चौक से सिरोंज चौराहे तक सड़क को आरडीसी लोक निर्माण विभाग को सौंपेगी। सड़क के इस हिस्से में कई जगह गड्ढे उभर आए हैं। इसका निर्माण सिरोंज से बासौदा तक 79 करोड़ रुपए की लागत से स्वीकृत टू-लेन सड़क निर्माण के तहत किया जाना था लेकिन आरडीसी ने इस हिस्से का निर्माण छोड़ दिया। इसके पीछे तर्क दिया जा रहा है। सिटी के बीच आरडीसी निर्माण कार्य नहीं कराती। शिफ्टिंग ज्यादा होती है। इसलिए इस हिस्से को वापस लोक निर्माण विभाग को सौंपा जाएगा। सड़क की हालत दिन व दिन खराब हो रही है। इस वजह से वाहन चलाना समस्या बन रहा है। लोनिवि के अधिकारियों का कहना है कि सड़क आरडीसी को सौंपी जा चुकी है। दो साल से इसकी मरम्मत भी नहीं हो पा रही है।
बार बार बदला प्लान: बासौदा से सिरोंज तक 42 किमी सड़क का निर्माण आरडीसी रोड डवलपमेंट कार्पोशन द्वारा कराया गया है। सड़क की ऊंचाई बस्ती में न बड़े इससे जय स्तंभ चौक से सिरोंज चौराहे तक पुरानी सीसी सड़क पर डामर का सील कोड़ किया जाना था। सड़क के दोनों ओर एक एक मीटर पेवर ब्लाक लगाए जाना थे लेकिन इस हिस्से को जस के तस छोड़ दिया गया।
इसलिए छोड़ा कार्य: ठेकेदार को रेलवे स्टेशन से जय स्तंभ चौक तक फोर-लेन सड़क निर्माण के दौरान काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। कभी अतिक्रमण तो कभी पाइप लाइन शिफ्टिंग के चलते समस्या आई। प्रशासनिक सहयोग भी नहीं मिला। राजनैतिक दबाव भी काफी रहा। जय स्तंभ से सिरोंज चौराहे के बीच पोल शिफ्टिंग और अतिक्रमण की भी दिक्कत थी। इसके चलते ठेकेदार ने काम करने से मना कर दिया। आरडीसी ने आबादी के बीच निर्माण करने से पल्ला झाड़ लिया। जबकि रेलवे स्टेशन से जय स्तंभ चौक तक भी आबादी थी। उसका निर्माण तो कर दिया लेकिन आगे का छोड़ दिया गया। रविंद्र भावसार का कहना है कि जय स्तंभ चौक से सिरोंज चौराहे तक सीसी सड़क का निर्माण 2012 में कराया गया था। ट्रैफिक दबाव से सड़क के सरफेस की सीसी पर्त पूरी तरह डेमेज हो चुकी है। इससे गिट्टी निकल आई हैं। कई जगह पर गड्ढे होने के कारण उनमें बारिश का पानी भर रहा है। पानी के छिंटे उछलकर दुकानों के सामान तक पहुंच जाते हैं। इस वजह से दुकान का सामान खराब हो जाता है।
अधर में अटका है कार्य
हालात यह हो गए हैं कि पिछले दो साल से सड़क का यह हिस्सा अधर में अटका हुआ है। इसकी मरम्मत तक नहीं हो पा रही है। पूरे मार्ग से सीसी पर्त गायब हो चुकी है। सिर्फ गिट्टियां ही दिखाई दे रही हैं। इसकी मरम्मत तक नहीं हो पा रही है। इससे अब गड्ढे उभर आए हैं।

भेजा जाएगा पत्र
^सड़क के इस हिस्से में शिफ्टिंग ज्यादा थी। शहर के बीच कार्पोरेशन निर्माण नहीं करता। इससे सड़क के इस हिस्से को वापस लोक निर्माण विभाग को सौंपेंगे। इसके लिए पत्र भेजा जाएगा।
पवन अरोरा, डीजीएम आरडीसी भोपाल

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप धैर्य व विवेक का उपयोग करके किसी भी समस्या को सुलझाने में सक्षम रहेंगे। आर्थिक पक्ष पहले से अधिक सुदृढ़ स्थिति में रहेगा। परिवार के लोगों की छोटी-मोटी जरूरतों का ध्यान रखना आपको खुशी प्र...

और पढ़ें