पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विवाह आज:माता पूजन-मंडप की रस्में पूरी, अश्राम की 3 बेटियों का कन्यादान करेंगे सीएम

विदिशा17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रात में विदिशा पहुंचे सीएम। - Dainik Bhaskar
रात में विदिशा पहुंचे सीएम।
  • 1999 में मिली थीं तीनों बेसहारा, इनमें से दो सगी बहनें, इसके पहले 4 बेटियों की अब तक हो चुकी हैं शादियां

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मुखर्जीनगर स्थित श्री सुंदर सेवा आश्रम की प्रीति, राधा और सुमन नामक 3 बेटियों का विवाह 15 जुलाई गुरुवार को रंगई स्थित श्री बाढ़ वाले गणेश मंदिर परिसर में संपन्न होगा। धर्मपत्नी साधना सिंह चौहान के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्वयं सुबह से शाम तक मौजूद रहकर ना सिर्फ विवाह की रस्में पूरी करते हुए कन्यादान करेंगे बल्कि बारात की अगवानी से लेकर बेटियों की विदाई तक धूमधाम से करेंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान विवाह कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बुधवार साढ़े 9 बजे देर रात को पहुंच गए थे।

एक घंटा रुकने के बाद वह भोपाल लौट गए। गुरुवार को दोपहर 12 बजे वह फिर लौटेंगे। विवाह से एक दिन पहले विदिशा में माता पूजन और मंडप की रस्मों का आयोजन किया गया। इन सभी कार्यक्रमों में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की धर्मपत्नी साधना सिंह चौहान ने परिवार के साथ उपस्थित होकर मुखर्जीनगर के माता मंदिर में माता पूजन की रस्में पूरी करवाई। इससे पहले शनिवार 10 जुलाई को उन्होंने बाजार पहुंचकर बेटियों की शादी के लिए दहेज सहित अन्य जरूरी सामान की खरीदारी की थी।

सुंदर वन में तीनों बेटियों की परवरिश हुई
मुख्यमंत्री की पत्नी साधना सिंह चौहान ने बताया कि 1999 में ये तीनों बेसहारा बेटियां मिलीं थी। जब इनका कोई सहारा नहीं था तब विदिशा के तत्कालीन सांसद और वर्तमान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने प्रीति, राधा और सुमन नामक तीनों बेसहारा बेटियों की परवरिश का जिम्मा लिया था। इसके बाद इन्हें मुखर्जीनगर स्थित श्री सुंदर सेवा आश्रम में रखकर इनकी देखभाल की गई। इनकी पढ़ाई-लिखाई से लेकर शादी तक का पूरा इंतजाम आश्रम के द्वारा ही किया गया।

आश्रम में प्रीति और सुमन हैं दोनों सगी बहनें
साधना सिंह ने बताया कि आश्रम की बेटी प्रीति और सुमन आपस में सगी बहनें हैं। इनकी उम्र 22 से 23 साल के बीच में हैं। इन्हें यहां साल 1999 में लाया गया था। ये दोनों विदिशा जिले के खजूरी गांव में लावारिस हालत में मिली थीं। इसी प्रकार राधा को सीहोर जिले की बुधनी तहसील के खोवा नामक गांव से बेसहारा हालत में यहां लाया गया था। तभी से तीनों की यहां परवरिश की जा रही है। इस पहले 4 बेटियों की भी शादियां अब तक हो चुकी है।

प्रीति की रोहन, राधा की सोनू और सुमन की प्रशांत से होगी शादी: श्री सुंदर सेवा आश्रम की बेटी प्रीति की शादी रोहन नामक युवक से होगी। रोहन विदिशा नगरपालिका का कर्मचारी है। इसी प्रकार राधा की शादी सोनू मेहरा से होगी। सोनू भी नगरपालिका में काम करता है। इसी प्रकार सुमन की शादी प्रशांत से होगी। प्रशांत निर्वाचन शाखा का कर्मचारी है।

खबरें और भी हैं...