संकट / सिर्फ 7 दिन सप्लाई का पानी शेष, हलाली डैम से दो दिन में नहीं छूटा तो बढ़ेगा संकट

Supply water left for only 7 days, if the halali dam is not left in two days, the crisis will increase
X
Supply water left for only 7 days, if the halali dam is not left in two days, the crisis will increase

  • नपा ने 7 दिन पहले कालिदास बांध में पानी छोड़ने लिखा था पत्र, लेकिन अब तक नहीं आया
  • नहर के रास्ते बेतवा के बांध तक पानी लाने में 5 से 7 दिन का लगता है समय
  • 650 हैंडपंपों में से 50 से अधिक खराब, रोजाना 10 से 12 शिकायतें आ रही

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 07:45 AM IST

विदिशा. बेतवा के कालिदास बांध में इस समय केवल डेढ़ फीट पानी बचा है। इस पानी से शहर में केवल 7 दिन सप्लाई हो सकती है। नगर पालिका ने 1 सप्ताह पहले सम्राट अशोक सागर परियोजना के अंतर्गत संचालित हलाली डैम से बेतवा के कालिदास बांध में पानी छोड़ने के लिए पत्र लिखा था। लेकिन 1 जून तक हलाली डैम से पानी नहीं छोड़ा गया है। हलाली डैम से विदिशा की दूरी करीब 35 किमी है । नहर के रास्ते बेतवा के बांध तक पानी लाया जाता है। इसमें 5 से 7 दिन का समय लगता है। 
यदि हलाली डैम से जल्द पानी नहीं छोड़ा गया तो विदिशा में जल संकट बढ़ सकता है। इसके अलावा शहर के करैया खेड़ा रोड, पूरनपुरा, टीला खेड़ी सहित कई इलाकों में जल संकट बढ़ने के बाद नगरपालिका के 60 टैंकर तक पानी की सप्लाई करनी पड़ रही है। वहीं शहर के 650 हैंडपंपों में से 50 से अधिक हैंडपंप खराब पड़े हैं। रोजाना 10 से 12 शिकायतें नगर पालिका के पास पहुंच रही हैं। 

दूसरी बार पड़ी है नपा को पानी की जरूरत
नगर पालिका के सहायक यंत्री युधिष्ठिर सिंह भदोरिया ने बताया कि नगर पालिका को इस  सीजन में दूसरी बार हलाली डैम से पानी लेने की जरूरत पड़ रही है। इससे पहले नगर पालिका ने 4 अप्रैल को पहली बार हलाली से पानी देने की शुरुआत की थी। 4 से 18 अप्रैल तक हलाली डैम से विदिशा के कालिदास डैम में पानी आया था। इस बार 1 जून तक हलाली से पानी छोड़ने की शुरुआत नहीं हुई है। पानी आने में करीब 15 दिन का समय लगता है। इस बीच नगर पालिका के कालिदास डैम में सिर्फ 7 दिन की सप्लाई का पानी बचा है। यदि 7 दिन के अंदर हलाली से पानी नहीं आया तो शहर में जल संकट के हालात बन सकते हैं।

वार्डों में पहुंच रहा है 60 टैंकर से अधिक पानी
शहर में भी कई वार्डों में लोगों को जल संकट का सामना करना पड़ रहा है । इसके लिए नगर पालिका टैंकरों से पानी की सप्लाई कर रही है। इस समय शहर के करैया खेड़ा रोड, पूरनपुरा, टीला खेड़ी कॉलोनी, सुभाष नगर सहित कई दूरस्थ इलाकों में टैंकरों से पानी सप्लाई किया जा रहा है। नगर पालिका अपने 5 टैंकरों से रोजाना 60 टैंकर से अधिक पानी सप्लाई कर रही है। इसके अलावा वार्डों से लोगों की डिमांड के अनुसार भी टैंकरों से पानी भेजा जाता है।

बांध में 20 एमसीएफटी पानी स्टोर की क्षमता
गौरतलब है कि नगरपालिका के कालिदास बांध में सिर्फ 20 एमसीएफटी पानी स्टोर करने की क्षमता है ।इस पानी से शहर में 50 दिन तक पानी की सप्लाई हो सकती है। इसके बाद फिर से हलाली डैम से पानी मंगाने की जरूरत होती है। चूंकि हलाली डैम से 80 एमसीएफटी पानी छोड़ा जाता है लेकिन कच्ची नहरों के कारण रास्ते में ही 60 एमसीएफटी तक पानी बेकार हो जाता है। कालिदास बांध में सिर्फ 20 एमसीएफटी पानी 8 फीट की गहराई तक स्टोर पाता है । इसी कारण बार-बार हलाली से पानी की जरूरत पड़ती है। एक बार में नगर पालिका को पानी मंगाने के लिए करीब ₹5 लाख खर्च करने पड़ते हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना