पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फटी दांत नदी के पास न बने मुरवास जैसे हालात:20 एकड़ जंगल काटकर बनाया मैदान टपरा बांधकर रहने लगे कब्जेधारी

विदिशा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फटीदान्त नदी की तरी में बने टपरे - Dainik Bhaskar
फटीदान्त नदी की तरी में बने टपरे

कुछ माह पहले वन भूमि पर अतिक्रमण के चलते मुरवास में दिन दहाड़े की गई निर्मम हत्या के बाद दबाव वश ही सही वन विभाग ने सैकड़ों बीघा जमीन अतिक्रमण मुक्त कराई थी। जब तक मामला गर्म रहा अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई चली और कुछ दिन बाद विभागीय लोगों की गतिविधियां फिर पहले की भांति सामान्य हो गई।

इसके जीवंत प्रमाण स्वरूप अतिक्रमणकारियों द्वारा फिर से जंगल के हरे भरे पेड़ों को काटकर वन भूमि को मैदान में बदलने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। वर्तमान में कोकनगढ़ गांव के पास फटी दांत की नदी के पुल के पास जंगल में घुसकर नदी की तरी में कुछ असामाजिक तत्वों ने 20 एकड़ जंगल काटकर मैदान कर दिया है और टपरा बांधकर भी जंगल में रहने लगे हैं। इस संबंध में उत्तर लटेरी के रेंजर अभिजीत स्वामी का कहना है कि टीम ने रविवार को उन टपरों को तोड़ने की कार्रवाई की है। आगे भी अतिक्रमण करने वालों पर कार्रवाई करेंगे।
भास्कर सवाल...

वन माफिया व कर्मचारियों की मिली भगत से जंगल बदल रहे हैं मैदान में: ऐसा संभव नहीं है कि वन विभाग के चौकीदारों ने कटे हुए पेड़, पेड़ों की कटाई के चलते साफ होता मैदान और वहां बने हुए टपरे न देखे होंं? और विभाग को सूचना न दी हो? निश्चय ही वन माफिया व कर्मचारियों की मिली भगत से ही जंगल मैदान में बदल रहे हैं। लोगों की मानें तो विभाग के कई भ्रष्ट लोग विभाग व वन माफिया दोनों से ही वित्त पोषित होकर फल-फूल रहे हैं।

खबरें और भी हैं...