• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Vidisha
  • The Relatives Of The Deceased Did A Blockade By Placing The Dead Body On Bina Bhopal State Highway, Also Surrounded The Police Station.

न्याय की मांग को लेकर चक्काजाम:मृतक के परिजनों ने शव को बीना भोपाल स्टेट हाईवे पर रखकर किया चक्काजाम, थाने का घेराव भी किया

विदिशा3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

विदिशा जिले के कुरवाई थाना इलाके में भोंंरासा तिराहे पर करीब पांच दिन पहले घायल अवस्था में मिले शख्स की इलाज के दौरान सोमवार रात मौत हो गई। जिसके बाद मृतक के परिजन शव लेकर कुरवाई पहुंचे। वहीं परिजनों और ग्रामीणों ने मंगलवार की शाम कथित आरोपी पर हत्या का केस दर्ज करने की मांग करते हुए बेतवा पुल के पास शव रखकर हाईवे पर चक्काजाम कर दिया। प्रशासन की समझाने और आश्वासन के बाद परिजन माने और चक्का जाम को समाप्त कर दिया गया। बता दें कि मामले में पुलिस अज्ञात वाहन से दुर्घटना मानकर केस दर्ज कर जांच कर रही थी।

न्याय की मांग को लेकर चक्काजाम

मामले में घुरावली निवासी मृतक रघुवीर सिंह (30) के परिजनों और ग्रामीणों ने थाने का घेराव किया एवं मांग की कथित आरोपी के विरुद्ध हत्या का प्रकरण दर्ज किया जाए। इसके बाद मृतक के परिजनों ग्रामीणों ने बेतवा पुल के पास शव रखकर हाईवे पर चक्काजाम कर दिया। पुलिस प्रशासन और स्थानीय प्रशासन के समझाने और आश्वासन के बाद चक्का जाम को समाप्त कर दिया गया। चक्काजाम लगभग 2 घंटे तक जारी रहा।

ग्रामीणों ने बताया कि मृतक मजदूरी का कार्य कर अपने परिवार का पालन पोषण करता था। उसके परिवार में उसकी पत्नी, दो पुत्र और एक पुत्री है। चक्काजाम स्थल पर मृतक की पत्नी, मासूम बच्चे और परिवार की महिलाएं रोते हुए न्याय की मांग कर रही थी। इस दौरान बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।

मृतक के परिजनों के आरोप

मृतक के भाई हरिसिंह ने बताया कि मेरे भाई रघुवीर को पिछले 1 माह से अपनी ससुराल में रह रहा घुरावल निवासी सोमत सिंह लोधी के दामाद कैलाश लोधी अपने साथ मोटरसाइकिल से लेकर गया था। कैलाश लोधी थाना पठारी क्षेत्र के हसनपुर का निवासी है। घटना के बाद से वह फरार है। हरिसिंह ने आरोप लगाया कि मेरे भाई दुर्घटना में घायल नहीं हुआ था उसकी योजनाबद्ध तरीके से हत्या की गई है।

मृतक की पत्नी जानकी अहिरवार ने बताया कि मैं घटना के दूसरे दिन कुरवाई थाने कैलाश लोधी की शिकायत को लेकर पहुंची थी। लेकिन मेरी सुनवाई नहीं हुई। रघुवीर को कैलाश लोधी घर से ले गया था और कैलाश अब तक फरार है। रघुवीर के शरीर पर डंडे से पीटने के निशान हैं।

पुलिस का बयान

कुरवाई थाना प्रभारी बृजेंद्र मर्सकोले ने बताया कि उक्त मामले की गंभीरता से जांच की जाएगी। जांच के उपरांत दोषी पाए जाने पर कथित आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा। हमारेे द्वारा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद जो भी मामला होगा उस हिसाब सेे कार्रवाई की जाएगी। पुलिस अपना काम निष्पक्ष तरीके से कर रही है। पीड़ित परिवार को न्याय मिलेगा।