MP की सबसे बड़ी पंचायत से चुनावी रिपोर्ट:बुरहानपुर की ऐमागिर्द पंचायत की आबादी 40 हजार, पर कहलाता है गांव

रईस सिद्दिकी (बुरहानपुर)3 महीने पहले

मध्यप्रदेश की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत ऐमागिर्द। यहां की आबादी 40 हजार है, जबकि वोटर्स 17,984 हैं। इसे प्रदेश की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत कहा जाता है। यहीं पर शाहजहां ने मुमताज की याद में काला ताजमहल बनवाया था, वहीं ऐतिहासिक दरगाह-ए-हकीमी के लिए भी यह पंचायत मशहूर है। यहां 500 से ज्यादा औद्योगिक इकाइयां भी हैं, लेकिन पंचायत चुनाव में यहां के मुद्दे वहीं पुराने हैं।

पंचायत में मुख्य मार्ग से लेकर घरों के सामने तक कूड़े के ढेर लगे हुए हैं। जगह-जगह कचरा बिखरा नजर आता है। समय-समय पर यह सीट बड़े-बड़े नेताओं के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्न रही है, लेकिन यहां के मुद्दे अभी भी पानी, बिजली, सड़क और सफाई जैसे हैं। यहां इस बार 17 प्रत्याशी सरपंच पद के दावेदारी कर रहे हैं। इनमें से भी 7 मजदूर हैं।

जनप्रतिनिधियों के प्रति लोगों में है गुस्सा

दैनिक भास्कर टीम ने ऐमागिर्द पंचायत के 4 क्षेत्रों ऐमागिर्द, लोधीपुरा, आजाद नगर और हमीदपुरा का जायजा लिया। यहां के वोटरों में जनप्रतिनिधियों के प्रति जबरदस्त गुस्सा दिख रहा है। दरअसल, यहां मुख्य मार्ग से लेकर घरों के सामने तक कूड़े के ढेर, गंदे पानी से भरे छोटे-छोटे प्लॉट, रोड पर भी जगह-जगह बिखरा कचरा नजर आता है। यहां रहवासी खुद ही जनसहयोग से सफाई कराते हैं और कचरा भी उठवाते हैं। पंचायत के पास संसाधनों की कमी है।

बड़े नेताओं की प्रतिष्ठा का प्रश्न रही यह पंचायत
ऐमागिर्द पंचायत को दिवंगत सांसद नंदकुमार सिंह चौहान ने उनके कार्यकाल में एक बार गोद लिया था। तब यहां सीमेंट-कांक्रीट रोड बना था। वहीं पूर्व मंत्री अर्चना चिटनिस भी यहां सक्रिय हैं, कांग्रेस के लिए भी इस पंचायत को नगर परिषद बनाना चुनावी मुद्दा रहा है। इसके बाद भी पूरा क्षेत्र विकास में पिछड़ा है, यह बात यहां के लोग खुद कह रहे हैं।

यहां 500 से ज्यादा औद्योगिक इकाइयां हैं। लेकिन साफ-सफाई की कोई व्यवस्था नहीं है।
यहां 500 से ज्यादा औद्योगिक इकाइयां हैं। लेकिन साफ-सफाई की कोई व्यवस्था नहीं है।

भ्रष्टाचार के आरोप लगते रहे, 2010 से 15 तक का रिकाॅर्ड गायब
ऐतिहासिक, धार्मिक स्थलों तक पहुंचने वाले मार्ग जर्जर। मार्ग के आसपास की सारे नाले, नालियां चोक। हमीदपुरा से होकर गुजरने वाला गणपति नाका-सिंधी बस्ती बायपास मार्ग निर्माणाधीन। यहां भी कई जगह लंबे समय से नाले और नालियों की सफाई नहीं हुई। पंचायत सरपंच, सचिवों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगते रहे हैं। पंचायत से अप्रैल 2010 से मार्च 2015‎ के बीच का रिकॉर्ड ही गायब है। कुछ समय पहले विधानसभा में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव‎ लाने पर जिला पंचायत ने एमार्गिद पंचायत के पांच साल‎ के रिकॉर्ड की जानकारी मांगी थी। रिकॉर्ड नहीं मिलने पर एक पूर्व सरपंच पर जनपद सीईओ ने केस भी दर्ज कराया था।

ग्राम पंचायत ऐमागिर्द दरगाह-ए-हकीमी के लिए भी प्रसिद्ध है।
ग्राम पंचायत ऐमागिर्द दरगाह-ए-हकीमी के लिए भी प्रसिद्ध है।

वोटर्स के सवाल

  • क्षेत्र के सैयद वाजिद का कहना है कि प्रत्याशी वोट लेना रहता है तो आते हैं, काम के टाइम पर कोई नहीं आता। हम जनसहयोग से सफाई कराते हैं। पूरी ऐमागिर्द पंचायत में महज 2 कचरा गाड़ी है। सीईओ से भी इसकी शिकायत कर चुके हैं।
  • मोहम्मद शरीफ ने कहा-हम लोग ही साफ सफाई कराते हैं। अभी सब आ रहे हैं वोट मांगते हैं। वह कहते हैं हमारा ख्याल रखना, लेकिन हमारा ख्याल कोई नहीं रखता। ऑनलाइन शिकायत करने पर शिकायत कटवाते हैं कहते हैं हम आ रहे, पर आते नहीं।
यहां सड़कें नहीं है। जगह-जगह कचरे का ढेर लगा रहता है।
यहां सड़कें नहीं है। जगह-जगह कचरे का ढेर लगा रहता है।

नगर परिषद के लिए सिर्फ 15 हजार की आबादी जरूरी
नगर परिषद बनने के लिए सिर्फ 15 हजार की आबादी का नियम है, तो वहीं नगर पालिका के लिए 20 हजार और अधिकतम 5 लाख है। परंतु इसके बाद भी ऐमागिर्द पंचायत को आज तक नगर परिषद का दर्जा दिलाने के कोई प्रयास नहीं हुए। यह पंचायत शहरी क्षेत्र में आती है। इसके सभी 4 क्षेत्र शहर में हैं, लेकिन वह गांव में आते हैं। आबादी के लिहाज से यहां 40 हजार लोग रहते हैं, लेकिन इसमें वोटर 17,894 हैं। अधिकांश लोगों ने यहां अपने मकान बनाए हैं, लेकिन उनके वोट फिलहाल शहर के दूसरे वार्डों में हैं।

चार भागों में बंटी है पंचायत

  • शाहदरा
  • ऐमागिर्द
  • हमीदपुरा
  • बाड़ा बुजुर्ग
खाली प्लॉटों पर भी कचरा पड़ा रहता है। सफाई नहीं होती।
खाली प्लॉटों पर भी कचरा पड़ा रहता है। सफाई नहीं होती।

मैदान में इनके बीच मुकाबला

उम्मीदवारयोग्यताव्यवसाय
1. अब्दुल शाहिद6वींव्यापार
2. आरिफ मीरसाक्षरप्रॉपर्टी ब्रोकर
3. इमरान उल्ला शेखबीयूएमएसडॉक्टर
4. जियाउद्दीन इनामदार10वींठेकेदारी
5. तिलक पुंडलिकबी-कॉममजदूरी
6. निशरीन मोहम्मदबी-कॉमकपड़ा व्यवसाय
7. फिरोज बेग12वींव्यापार
8 भगवान राजाराम8वींमजदूरी
9. भागवत बड़े8वींमजदूरी
10. महेंद्र चौधरी12वींमजदूरी
11. मुमताज अलीकेवल साक्षरमजदूरी
12. मोहम्मद रफीक12वींआटा चक्की
13. रियाज अहमदबीए, एलएलबीवकील
14. शेख अमीर5वींरस्सी निर्माण
15. शेख हफीजनिरंकमजदूरी
16. शेख वाजिद मीरनिरंकफेब्रिकेशन, वेल्डिंग
17. यशवंत पीतांबरअशिक्षितमजदूरी

यह भी पढ़िए

शाहजहां-मुमताज की Love story के चौंकाने वाले राज:MP में परवान चढ़ा इश्क; मिट्टी में दीमक न होती तो ताजमहल आगरा में नहीं, बुरहानपुर में बनता

MP पंचायत चुनाव प्रोसेस पर A to Z:क्या है पंचायत, कैसे काम करती है, कैसे चुनते हैं पंच, सरपंच और जनपद सदस्य, VIDEO में देखिए