जिला अस्पताल के हाल-बेहाल:सोनोग्राफी टेक्निशियन ना होने से महिलाएं परेशान, 2-2 दिन इंतजार करते हैं मरीज

बुरहानपुर9 दिन पहले

जिला अस्पताल में गर्भवती महिलाओं को सोनोग्राफी कराने के लिए दो दो दिन परेशान होना पड़ रहा है, लेकिन जिम्मेदारों द्वारा इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा। महिलाओं के परिजनों का कहना है शनिवार सुबह से नंबर लगाकर सोनोग्राफी करने के लिए कतार में खड़े हैं, लेकिन अब नंबर नहीं लगा। वहीं, जिम्मेदार डॉक्टरों का कहना है सोनोग्राफी मशीन पर टेक्नीशियन नहीं होने के कारण परेशानियां आ रही है। पहले इमरजेंसी मरीजों की सोनोग्राफी की जाती है। इसलिए सेंटर पर लोगों की भीड़ लग रही है। एक ही मशीन होने से भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

अस्पताल में होती है निशुल्क जांच

प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों में गर्भवती महिलाओं को सोनोग्राफी निशुल्क होती है जबकि निजी में काफी अधिक पैसा लगता है। इसलिए अधिकांश महिलाएं जिला अस्पताल में ही सोनाग्राफी कराती हैं। लेकिन यहां लंबी कतार और अन्य परेशानियों से जूझना पड़ता है। इसे लेकर डॉ. प्रतिभा बागरन ने कहा-बुरहानपुर जिला अस्पताल में टेक्नीशियन नहीं होने के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। पहले इमरजेंसी वाले मरीजों की सोनोग्राफी की जाती है।