परिषद की बैठक:पूर्व नगर परिषद अध्यक्ष ने बैठक में फाड़ी एजेंडा की कॉपी

चंदला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चंदला नगर परिषद में गुरुवार दोपहर परिषद की बैठक हुई। अध्यक्ष और सीएमओ ने एक बैठक बुलाई थी लेकिन बैठक में एजेंडा को लेकर विपक्षी दल के पार्षदों और अध्यक्ष के बीच जमकर कहासुनी हुई। कहासुनी के बाद विपक्षी दल के सभी पार्षद बैठक छोड़कर निकल गए। नगर परिषद की पूर्व अध्यक्ष व वार्ड 9 की वर्तमान कांग्रेस पार्षद अनित्या सिंह ने अध्यक्ष और सीएमओ पर आरोपों की बौछार कर दी। उन्होंने कहा कि तैयार एजेंडा में विपक्षी दल के पार्षदों की बातों को नजर अंदाज कर अन्य वार्डों के विकास का एजेंडा तैयार किया गया था।

उन्होंने कहा कि समूचे नगर में स्ट्रीट लाइट लगाई जाना थीं, पर ज्यादातर स्थानों पर स्ट्रीट लाइट नहीं लगाई गईं। इसका बिल भी पास हो गया। उन्होंने कहा कि जब तक सभी पार्षदों से बिंदु नहीं मंगवाए जाते तब तक हम यूं ही इस मीटिंग का बहिष्कार करते रहेंगे। चंदला की नवनिर्वाचित पार्षद शोभा खटीक के द्वारा अपने घर में ही एक निजी कार्यालय खोला गया है। कार्यालय खोले जाने में जो भी खर्च हुआ, उसका वहन नगर परिषद के द्वारा किया गया। पूर्व नगर परिषद अध्यक्ष अनित्या सिंह ने कहा कि हम सभी पार्षदों को भी निजी कार्यालय खोलने के लिए नगर परिषद अर्थ उपलब्ध कराएं।

तैश में आकर बैठक में ही फाड़ दिया एजेंडा

बैठक में जब बहस चल रही थी, उसी दौरान नगर परिषद की पूर्व अध्यक्ष अनित्या सिंह ने तैश में आकर एजेंडा की कॉपी फाड़ दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि एजेंडा में विपक्षी दलों के पार्षदों के वार्ड शामिल नहीं किए गए। बताया यह भी जा रहा है कि अनित्या सिंह ने मीटिंग से पूर्व 9 पार्षद के सिग्नेचर करवा कर बैठक को किसी और दिन करने को लेकर एक आवेदन भी दिया था।

बैठक की तारीख बदलने को लेकर थीं नाराज
बता दें कि पूर्व अध्यक्ष अनित्या सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की बड़ामलहरा में होने वाली जनसभा का हवाला देते हुए बैठक निरस्त कर इसकी तारीख बदलने को कहा था। पर अध्यक्ष शोभा खटीक ने यह कहकर आवेदन को दरकिनार कर दिया गया कि सम्मेलन की तारीख पहले ही जारी कर दी गई थी। सभी पार्षदों ने एजेंडा को लेकर आज के लिए अपनी सहमति भी दे दी थी। मीटिंग को कैंसिल नहीं किया जा सकता।

खबरें और भी हैं...