• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Chhatarpur
  • Assistant Committee Manager With 15 Thousand Salary Turned Out To Be The Owner Of Two Crushers, Stone Quarry And 4 Cars

छापामार कार्रवाई:15 हजार वेतन वाला सहायक समिति प्रबंधक दो क्रेशर, पत्थर खदान व 4 कार का मालिक निकला

छतरपुर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बदौराकलां समिति प्रबंधक के घर जांच करते आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो टीम के अधिकारी। - Dainik Bhaskar
बदौराकलां समिति प्रबंधक के घर जांच करते आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो टीम के अधिकारी।

बदौराकलां सहकारी समिति के सहायक समिति प्रबंधक के तीन ठिकानों आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो (ईओडब्ल्यू) की टीम ने छापामार कार्रवाई की। इस दौरान टीम को प्रबंधन के घर पर सोना, चांदी, वाहन, जमीन, पत्थर खदान और क्रेशर के दस्तावेज सहित अवैध पिस्टल मिली।

अवैध पिस्टल मिलने पर टीम ने जुझारनगर थाने में मामला दर्ज कराया है। समिति प्रबंधक पर आय से 6 गुना अधिक संपत्ति जुटाने का आरोप है। ईओडब्ल्यू सागर और जबलपुर तीन टीमों ने शनिवार की सुबह बदौराकलां के समिति प्रबंधक प्राण उर्फ मुन्ना सिंह के सागर रोड स्थित पेप्टेक सिटी के निवास, बारीगढ़ और जोगा गांव में एक साथ छापामार कार्रवाई की।

इस कार्रवाई के दौरान टीम को 67 कृषि भूमि इकरारनामा सहित कुल 33 रजिस्ट्रियां, दो क्रेशर अौर पत्थर खदान के दस्तावेज मिले हैं। छतरपुर,बारीगढ़ और गांव में घर के दस्तावेज प्राप्त हुए। इसके साथ ही एक जेसीबी, एक पोकलेन मशीन, एक टाटा सफारी,एक स्कॉर्पीओ, एक एक्सयूवी कार,एक सैल कार, दो ट्रैक्टर, तीन बाइक के दस्तावेज पाए गए।

इसके साथ ही 1 लाख 61 हजार 500 रुपए नकद, 333 ग्राम सोना और 544 ग्राम चांदी के जेवरात पाए गए। वहीं घरेलू सामान की कीमत 30 लाख के करीब बताई जा रही है। कार्रवाई के बाद परिचित पहुंचे मिलने- शहर में देर राेड स्थित समिति प्रबंधक के पेप्टेक सिटी के मकान नंबर 245 में सुबह 4 बजे से दोपहर बाद तक ईओडब्ल्यू टीम ने कार्रवाई की। इसके बाद यह टीम यहां से निकल गई। इसके बाद समिति प्रबंधक के परिचित और रिश्तेदार उनसे मिलने उनके घर पहुंचे और उन्हें सांत्वना देते हुए उनका हौसला बढ़ाया।

अवैध पिस्टल मिलने पर जुझारनगर थाने में मामला किया दर्ज

कार्रवाई के दौरान बदौराकलां समिति प्रबंधक प्राण सिंह उर्फ मुन्ना के घर से टीम को एक 315 बोर की लाइसेंसी रायफल और अवैध पिस्टल मिली। जिस पर टीम ने जुझारनगर थाने पहुंचकर समिति प्रबंधक पर आर्म्स एक्ट की धारा 25/27 के तहत मामला दर्ज कराया है। जुझारनगर पुलिस ने समिति प्रबंधक पर आर्म्स एक्ट का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

मामला दर्ज करने के बाद की कार्रवाई
ईओडब्ल्यू जबलपुर के उप पुलिस अधीक्षक एवी सिंह ने बताया कि शिकायत पाए जाने पर ईओडब्ल्यू सागर ने पहले समिति प्रबंधक की जांच की। जिसमें उसके पास आय से 6 गुना अधिक संपत्ति अर्जित करने के आरोप हैं। अपराध दर्ज होने के बाद ईओडब्ल्यू ने प्राण सिंह पर धारा 13(1)बी 13(2) भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 संशोधित अधिनियम 2018 के तहत मामला दर्ज किया और आज छतरपुर, बारीगढ़ और जागा गांव पहुंचकर सागर और जबलपुर की तीन टीमों ने एक साथ मिलकर कार्रवाई की।

पीडब्ल्यूडी की मदद से होगा आंकलन
समिति प्रबंधक के पास पाई गई संपत्ति की जांच ईओडब्ल्यू द्वारा कराई जाएगी। जांच के दौरान पाए गए जमीन के दस्तावेजों की राजस्व अधिकारी कर राशि बताएंगे।वहीं मकान की जांच पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा कर राशि बताई जाएगी। वहीं जेवरातों की जांच सुनार के द्वारा और वाहनों की जांच बीमा कंपनी के सर्वेयर से कराते हुए राशि का आंकलन किया जाएगा। जबकि घरेलू सामान की कीमत पहले ही जांच टीम कर चुकी है।

खबरें और भी हैं...