खेतों में गाय-भैंस घुसने को लेकर हुआ विवाद:देवरों ने मिलकर विधवा भाभी को लाठी-डंडों से पीटा, हाथ की उंगलियां टूटी

छतरपुर (मध्य प्रदेश)6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छतरपुर के पटिया गांव में खेतों में गाय-भैंसों के घुसने को लेकर विवाद छिड़ गया। जिसमें विधवा महिला को उसीके ससुर और देवरों ने मिलकर जमकर पीट दिया। हमले में महिला के हाथ की उंगलियां टूट गई और चेहरे पर भी गंभीर चोटें आई हैं। महिला को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसका इलाज चल रहा है।

भगवां थाना क्षेत्र के पटिया गांव की रहने वाली विधवा सुधा राजा परमार (35) बताया कि उसके मूंगफली के खेतों में मेरे चचिया ससुर की गायें घुस आई और फसल को बर्बाद करने लगी। तो मेरा 16 साल का लड़का प्रिंस उनके खेत में गया और कहने लगा कि चाचा अपनी गायें बांधकर रखो हमारी फसल बर्बाद कर रही है। इसी बात को लेकर वे मेरे बेटे को मारने लगे। मुझे पता चला तो मैं पहुंच गई और बेटे को बचाने लगी इसी बीच भूपेंद्र ने अपने भाई के साथ मुझपर लाठी डंडों से हमला कर दिया। जिसमें मेरे हाथ की उंगली टूट गई और चेहरे सहित शरीर में अन्य जगहें गंभीर चोटें हैं। मैंने इसकी शिकायत थाने में कराई। पुलिस ने महिला को एक्सरे जांच और इलाज के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।

महिला की मानें तो 5 साल पहले उसके पति की मौत हो गई। तब से वह अकेली है। परिवार में उसका 1 बेटा और 1 बेटी दोनों नाबालिग हैं जो पढ़ाई करते हैं। साथ में बूढ़े ससुर रहते हैं। वह अकेले खेती कर परिवार चलाती है। बच्चों और बूढ़े ससुर का भरण-पोषण करती है।