आचार संहिता समाप्त:लाइसेंस धारियों को नहीं दिए जा रहे थानों में जमा शस्त्र

छतरपुर (मध्य प्रदेश)2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छतरपुर में चुनाव और आचार संहिता समाप्त होने के बाबजूद भी लायसेंस शस्त्र धारियों के शासन के आदेश से जमा शस्त्र अभी वापस नहीं दिए जा रहे हैं। मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग के द्वारा नगरीय निकाय चुनाव होने पर छतरपुर कलेक्टर के द्वारा अपने आदेश दिनांक 10.06.2022 में स्वतंत्र निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण संपन्न होने तक छतरपुर जिले के सभी शस्त्र लायसेंस निलंबित किए गए थे। जो कि 18 जुलाई 2022 तक थी। राष्ट्रपति के चुनाव होने के कारण यह अवधि दो दिन के लिए बढ़ गई थी। उसके बावजूद अब आचार संहिता समाप्त के बाद भी जिले के सभी शस्त्र लायसेंस धारियों के शस्त्र थानों और शासन की चिन्हित जगहों में जमा हैं। यहां से अभी शस्त्र लायसेंस धारियों के जमा शस्त्रों को नहीं दिए जा रहा है। जिससे लोग काफी परेशान हैं और यह जनचर्चा का विषय बन गया है। इस मामले में कई थाना प्रभारियों का कहना है कि इस संबंध में कोई आदेश जारी नहीं किया गया है।

मामले में जब छतरपुर के अपर कलेक्टर प्रताप सिंह चौहान से बात की तो उन्होंने बताया कि जो कलेक्टर का आदेश 10.06.2022 का है उसमें समयावधि खुली है। अत: उसी आदेश के बाद आचार संहित स्वतः समाप्त हो चुकी है और सभी थानों के थाना प्रभारियों द्वारा शस्त्र लायसेंस धारियों के शस्त्र उन्हें वापस कर देना चाहिए। संभवतः अब कयास लगाये जा रहे हैं कि जिले के सभी शस्त्र धारियों के शस्त्र लायसेंस मिलने लगेंगे।