डेंगू का कहर जारी:24 घंटें में मिले 8 नए मरीज, 211 के पार पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा, तीन संदिग्धों की हो चुकी मौत

छिंदवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छिंदवाड़ा में डेंगू संक्रमण तेजी से फैल रहा है जिस पर रोक लगाने के सरकारी प्रयास नाकाम साबित होते दिख रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम के द्वारा किए जा रहे हैं एलाइजा टेस्ट में हर दिन आधा दर्जन से अधिक मरीज डेंगू संक्रमित मिल रहे हैं। बुधवार को भी आठ नए मरीज मिले हैं। नए मरीजों को मिलाकर अब सरकारी आंकड़ा 211 पर पहुंच गया है। अब तक जिले में 3 संदिग्धों की मौत हो चुकी हैं।

हालांकि निजी अस्पताल और क्लीनिकों में मरीजों की संख्या दोगुना से अधिक है। सीएमएचओ डॉ. जीसी चौरसिया के मुताबिक बुधवार को आठ नए मरीज मिलने के बाद शहर के सत्यम् शिवम् कॉलोनी, श्रीवास्तव कॉलोनी, एसएएफ कॉलोनी, सीएनआई चर्च कम्पाउड और सुंदर देवरे नगर क्षेत्र में 525 घरों का सर्वे किया गया। सर्वे के दौरान 68 घरों में लार्वा मिले।

जिले में जुलाई से अब तक 22 हजार 265 घरों का सर्वे किया जा चुका है, जिसमें से 3 हजार 697 घरों में लार्वा का नष्टीकरण किया गया है।974 मरीजों की जांच में 211 पॉजिटिवअभी तक 974 डेंगू संदिग्ध मरीजों की एलाइजा जांच कराई जा चुकी है। इनमें से डेंगू के 211 पेशेंट मिले हैं। पिछले कुछ दिनों से मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी है। मलेरिया विभाग की अलग अलग 14 टीमें लार्वा नष्टीकरण सर्वे कर रही है। टीम द्वारा दवा छिड़काव व फागिंग कराई जा रही है । इसके बाद भी एडीज मच्छरों पर अंकुश नहीं लगाया जा सका है।

निजी अस्पतालों में ज्यादा है संख्या

भले ही सरकारी आंकड़ों में पूरे जिले में 211 मरीज संक्रमित बताया जा रहे हैं लेकिन निजी क्लीनिक को और बाहर के अस्पतालों में भी छिंदवाड़ा के 300 से ज्यादा मरीज डेंगू संक्रमण का उपचार करा रहे हैं। ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि लगातार डेंगू संक्रमित मरीजों की संख्या जिले में बढ़ रही है लेकिन प्रशासन संक्रमण को रोकने के लिए कोई ध्यान नहीं दे रहा।

MP में वैक्सीन पर जीवन-मरण का ज्ञान:तहसीलदार से बोला- साहब! आप जाइए, बाल- बच्चे पालो; वैक्सीन लगवाओ या न लगवाओ मरना तो है ही...मुझे नहीं जीना

खबरें और भी हैं...