• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Chhindwara
  • Due To Character Doubts In Dighawani, Husband Had Set It On Fire By Pouring Petrol, After 1 Year, The Court Sentenced

पत्नी के हत्यारे को आजीवन कारावास:दीघावानी में चरित्र संदेह के चलते पति ने पेट्रोल डालकर लगा दी थी आग, 1 साल बाद न्यायालय ने सुनाई सजा

छिंदवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

परासिया के दीघा बानी में चरित्र संदेह के चलते अपनी पत्नी को पेट्रोल डालकर आग के हवाले करने वाले कथित आरोपी को आज न्यायालय ने आजीवन कारावास की सजा से दंडित किया। दरअसल घटना 12 जुलाई 2021 की रात लगभग 9:30 बजे की है। पीड़िता जानकी बाई पति चिंतामन यदुवंशी उम्र 40 वर्ष निवासी दीघावानी आग से झुलसने के बाद जिला चिकित्सालय में उपचार के लिए भर्ती कराया गया था ।

जहां से उसे शासकीय मेडिकल कॉलेज नागपुर इलाज हेतु भेजा गया था। 14 जुलाई 2021 को उपनिरीक्षक अंजना मरावी थाना रावणवाड़ा द्वारा नागपुर मेडिकल कॉलेज के बर्न वार्ड में जाकर पीड़िता जानकीबाई से मैं लिए गए थे जिसमें उसने बताया था कि उसके पति पर शक करता था।12 जुलाई की रात तकरीबन 9:30 बजे जब वह घर में चूल्हे पर रोटी बना रही थी।

तभी पति ने जान से मारने की नियत से पीछे से उस पर पेट्रोल फेंक दिया जिससे वहां से झुलस गई थी। बाद में उपचार के दौरान जानकीबाई की मौत हो गई जिसके आधार पर पुलिस ने आरोपी पति चिंतामन यदुवंशी के विरुद्ध थाना रावनवाड़ा में अपराध क्रमांक 95/2021 पंजीबद्ध किया गया था।

जानकीबाई के परिजनों एवं अन्य गवाहों के कथन के आधार पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश छिंदवाड़ा जितेंद्र कुमार शर्मा द्वारा गुरुवार 18 अगस्त/को निर्णय पारित करते हुए आरोपी चिंतामन यदुवंशी को दोषी पाते हुए आजीवन कारावास एवं ₹2000 के अर्थदंड से दंडित किया गया । राज्य की ओर से अधिवक्ता अजय पालीवाल द्वारा पैरवी की गई।

खबरें और भी हैं...