MP में वैक्सीन पर जीवन-मरण का ज्ञान:तहसीलदार से बोला- साहब! आप जाइए, बाल- बच्चे पालो; वैक्सीन लगवाओ या न लगवाओ मरना तो है ही...मुझे नहीं जीना

छिंदवाड़ा2 महीने पहले

मध्यप्रदेश के बैतूल में वैक्सीन नहीं लगवाने के बहाने के बाद अब छिंदवाड़ा से दिलचस्प VIDEO सामने आया है। चौरई तहसीलदार को ग्रामीण ने वैक्सीन नहीं लगवाने के लिए जीवन-मरण तक का ज्ञान दे डाला। ग्रामीण ने कहा - वैक्सीन लगाओगे तो भी इंसान मरेगा। नहीं लगवाएगा, तब भी मरेगा। मरना तो है। जीना किसको है। मेरे को नहीं जीना है। आपको जीना है क्या...।

मामला चौरई ब्लॉक के पेंच टाइगर रिजर्व से लगे ग्राम जमतरा का है। हेल्थ डिपार्टमेंट की टीम गांव में वैक्सीनेशन के लिए पहुंची थी। टीम को रास्ते में ग्रामीण मिला। तहसीलदार ने उसे रोककर टीका लगने के बारे में पूछा। तहसीलदार ने ग्रामीण से कहा- चलो तुम्हारे घर चलते हैं। इंजेक्शन लगवा लो। इस पर ग्रामीण बोला- अरे मैं नहीं लगवाऊंगा। मैं हाथ जोड़कर विनती करता हूं साहब। आप टेम (टाइम) से जाइए। अपने बाल-बच्चे पालो। अधिकारी बोले- नहीं जीना है तो गांव छोड़कर चले जाओ। बोला- क्यों जाऊं। मैं इधर ही जीऊंगा। इधर ही मरूंगा।

दिल क्या चीज है, यह भी जान लीजिए : सेंव, चूड़ा और गाठिया खाते हो तो संभल जाइए: धूम्रपान जितना है खतरा

बाद में किसी तरह समझाकर ग्रामीण को वैक्सीनेशन के लिए राजी किया गया।
बाद में किसी तरह समझाकर ग्रामीण को वैक्सीनेशन के लिए राजी किया गया।

नशे में था ग्रामीण
बताया जा रहा है कि वैक्सीनेशन टीम के साथ बहस करने वाला ग्रामीण नशे में था। हालांकि, बाद में पंचायत भवन ले जाकर उसे वैक्सीन लगा दी गई।

यह भी पढ़ें

वैक्सीन नहीं लगवाने के लिए शिव की मूर्ति पर हाथ रखकर बोली- मेरे मालिक ने मना किया

पहले पलटा फिर बिना ड्राइवर दौड़ा ऑटो, VIDEO

सागर कोर्ट के बाहर प्रेमी जोड़े की पिटाई

खबरें और भी हैं...