पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Chhindwara
  • The Car Was Running Behind The Convoy Of MP Nakulnath, Got Stuck In The Water, The Villagers Pulled It Out By Rope, The Incident Of Goddess Badosa Of Saunsar

ये लापरवाही घातक हो सकती है माननीय:पुल के डेढ़ फुट ऊपर से बह रहा था पानी, सांसद नकुल नाथ के काफिले में शामिल राज्य मंत्री की गाड़ी फंसी, बड़ा हादसा टला

छिंदवाड़ा16 दिन पहले
रस्सी की मदद से गाड़ी को बाहर निकाला जा सका।

बारिश के मौसम में उफनते नालों और नदियों को पार करने की मनाही होती है, लेकिन छिंदवाड़ा में सांसद नकुलनाथ और कांग्रेस नेताओं ने इन नियमों को दरकिनार कर दिया। छिंदवाड़ा-नागपुर के बीच देवी बड़ोसा में स्थित पुलिया से डेढ़ फुट ऊपर पानी बह रहा था। तभी सांसद नकुल नाथ का काफिला बड़ा खतरा मोल लेते हुए यहां से गुजरा, लेकिन राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त मप्र एससी आयोग के सदस्य गुरुचरण खरे की गाड़ी पुलिया में भरे पानी में फंस गई। उनकी गाड़ी को दूसरी गाड़ी की मदद से भी खींचा गया, लेकिन सफलता न मिलने पर ग्रामीणों ने रस्सी से खींचकर बाहर निकाला। खरे बुधवार को तीन दिन के दौरे से वापस दिल्ली लौट रहे सांसद नकुलनाथ के काफिले में शामिल थे। यदि पुल पर पानी का बहाव और तेज होता, तो गुरुचरण खरे के साथ अनहोनी भी हो सकती थी।

सांसद नकुलनाथ बुधवार दोपहर शिकारपुर से सड़क मार्ग से नागपुर के लिए रवाना हुए। इस दौरान के साथ राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त एससी आयोग सदस्य गुुरुचरण खरे भी सांसद को विदा करने उनके पीछे काफिले में चल रहे थे। इस दौरान उनकी कार देवी बड़ोसा की पुलिया में भरे पानी में फंस कर बंद हो गई। इसके बाद आनन-फानन में वहां मौजूद लोगों ने राज्यमंत्री को बाहर निकाला। उन्हें दूसरी कार से नागपुर भेजा गया।

काफी मशक्कत के बाद रस्सी की मदद से कार को गहरे पानी से बाहर निकाला गया। गनीमत रही, जिस समय यह कार पुलिया पर बह रहे पानी के बहाव में फंसी थी, उस समय यहां पानी थोड़ा कम हो गया था। यदि पानी का बहाव तेज होता, तो बड़ी दुर्घटना हो सकती थी।

बीच पुलिया में बंद हो गई थी राज्यमंत्री की कार।
बीच पुलिया में बंद हो गई थी राज्यमंत्री की कार।

पहले ही निकल गई थी सांसद की कार
राज्यमंत्री की कार के पहले सांसद नकुलनाथ की कार चल रही थी, जो आगे निकल गई। प्रत्यदर्शियों के मुताबिक खरे की कार पुलिया के बीच जाकर पानी में बंद हो गई। इस कारण उन्हें परेशानी झेलनी पड़ी। लिहाजा, आधे घंटे बाद ग्रामीणों की मदद से कार को बाहर निकाला जा सका।

गाड़ी को बोलेरो की मदद से भी खींचा गया।
गाड़ी को बोलेरो की मदद से भी खींचा गया।

गहरानाला से बचने के लिए डायवर्टेड मार्ग का लिया था सहारा
गहरानाला पुलिया उफान पर होने के कारण उनके कारकेट में शामिल पुलिस कर्मियों ने उन्हें देवी बडोसा के डायवर्टेड मार्ग से ले गए। इस दौरान देवी बड़ोसा के पास पुलिया पर भी पानी होने के कारण बाकी वाहन निकल गए, लेकिन राज्यमंत्री का वाहन फंस गया।

छिंदवाड़ा दौरे पर आए सांसद नकुलनाथ बोले- पता था कि संसद में 2 दिन काम नहीं होगा, इसलिए यहां आया

जूते-चप्पल की दुकान पर काम करने वाले की ईमानदारी:जबलपुर में LIC कर्मी के बैग से गिरे 2 लाख रुपए लौटाए; पैसे वापस करने वाले ने कहा- किसी की अमानत को कैसे लगाता हाथ

खबरें और भी हैं...