• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Chhindwara
  • The Dream Of The Road In The Village Could Not Be Fulfilled, The MLA Had Given The Amount, The Panchayat Was Able To Get Half The Road Built!

सिल्वर मेडल लेकर गांव पहुंची दंगल गर्ल शिवानी!:गांव में सड़क का सपना नहीं हो पाया पूरा, विधायक ने दी थी राशि, पंचायत बनवा पाई आधी सड़क!

छिंदवाड़ा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अधूरा पड़ा निर्माण - Dainik Bhaskar
अधूरा पड़ा निर्माण

सिल्वर मेडल लेकर गांव पहुंची दंगल गर्ल शिवानी!गांव में सडक़ बनवाने का सपना नहीं हो पाया पूरा, विधायक ने दी थी राशि, पंचायत नहीं बनवा पाई सडक़सर्बिया में अंडर 23 महिला कुश्ती चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीतकर भारत का परचम लहराने वाली दंगल गर्ल शिवानी पवार गुरूवार को अपने ग्रह ग्राम उमरेठ पहुंची जहां जुन्नारदेव से लेकर उमरेठ तक उनका जगह जगह स्वागत किया गया। विधायक सोहन वाल्मिकी सहित अन्य नेताओं ने शिवानी की अगवानी की तो वहीं वही लोगों ने अपने देश के लिए मेडल लाने वाली शिवानी को देखने के लिए हर कोई बेताब दिखा।

लेकिन जब शिवानी अपने ग्रह ग्राम पहुंची तो उनके आने पर भी उनके घर के सामने की सडक़ अब तक नहीं बनी । जबकि इस सडक़ को बनाने के लिए परासिया विधायक सोहन वाल्मीक ने 5 लाख रुपए की राशि स्वीकृत कराकर पंचायत दिला दी , लेकिन पंचायत अपने गैर जिम्मेदाराना रवैए को बरकरार रखते हुए इस सडक़ को बनाने में भी लापरवाही बरतने में कोई कसर नहीं छोड़ी ।गौरतलब है , कि शिवानी पिता नंदलाल पवार उमरेठ की वह प्रतिभा है जिसने दीपावली के 1 दिन पूर्व देश को सिल्वर मेडल दिलवाया ।

उन्होंने कुश्ती के क्षेत्र में यह मकाम अपनी मेहनत और लगन से हासिल कर विदेश में आयोजित स्पर्धा में अपनी प्रतिद्वंदी को हराकर देश को गौरवान्वित किया । हालांकि वे गोल्ड मेडल के लिए चूक गई , लेकिन उनके हौसले अभी भी बुलंद है । उस दौरान उनकी इस उपलब्धि से खुश होकर हर किसी ने अपनी खुशी को जाहिर करने के लिए तरह - तरह के वादे किए । परासिया विधायक सोहन वाल्मीक ने भी उनके अपने घर उमरेठ आने के पहले की घर से मेन रोड तक 200 मीटर सीसी रोड बनाने के लिए 5 लाख रुपए स्वीकृत किए ।

माना जा रहा था, कि उस समय शिवानी जीत हासिल करने के बाद 5 दिनों के अंदर अपने ग्रह ग्राम लौटेंगीं, लेकिन उनके लौटने में देरी हुई और वह कामनवेल्थ गेमों की तैयारी में जुट गई , किंतु अभी कोरोना की स्थिति के चलते कामनवेल्थ गेम स्थगित कर दिए और वह छुट्टी लेकर अपने ग्रह ग्राम उमरेठ आ गई हैं पर सडक़ अभी भी अधूरी ही है ।

5 दिनों में बननी थी सडक़

मेडल जीतने के बाद शिवानी के 5 दिनों के अंदर उमरेठ लौटने की अटकलें लगाई जा रही थी। तब यह माना जा रहा था कि 5 दिन में सीसी सडक़ का निर्माण पूर्ण कर लिया जाएगा लेकिन जिम्मेदार लोगों ने इस मामले में पूरी ढिलाई बरती।

मेडल जीतने के बाद अब वे लगभग दो माह बाद जब घर लौटी हैं फिर भी सडक़ का काम अधूरा ही है बताया जा रहा है कि शिवानी के घर आने की खबर मिलने के बाद गत मंगलवार से काम फिर से शुरू कर दिया गया है हालांकि शिवानी के आने के बाद भी काम पूरा नहीं हुआ है।

पिता ने जताई नाराजगी

शिवानी के पिता नंदलाल पवार ने अब तक सडक़ नहीं बनने को लेकर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि मेरे गृह क्षेत्र महावीरढाना में पक्की सडक़ की लंबे समय से आवश्यकता थी। विधायक के कहने और राशि देने के बाद भी समय पर सडक़ निर्माण नहीं कराया जाना अच्छी बात नहीं है ।

पंचायत ने की घोर लापरवाही

विधायक सोहन वाल्मीक कहते हैं कि शिवानी के घर से मेन रोड तक सडक़ बनाने को लेकर पंचायत द्वारा घोर लापरवाही की गई है । जानबूझकर सडक़ को समय पर पूरा नहीं किया गया है । यह बात सरासर गलत है और प्रशासनिक अधिकारियों को सडक़ निर्माण से जुड़े जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करना चाहिए ।

खबरें और भी हैं...