कार्यकर्ताओं पर भड़के केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, VIDEO:छिंदवाड़ा में शिवाजी प्रतिमा पर माल्यार्पण के लिए रोका; नकुलनाथ बोले-बेमन से पहनाई माला

छिंदवाड़ा4 महीने पहले

छिंदवाड़ा में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह एक कार्यक्रम के दौरान अपनी ही पार्टी के कार्यकर्ताओं पर भड़क गए। इस घटना का वीडियो सामने आने के बाद कांग्रेस ने गिरिराज सिंह को निशाने पर लिया है। कांग्रेस सांसद नकुलनाथ ने ट्वीट कर घटना की निंदा की और केंद्रीय मंत्री के बर्ताव को कार्यकर्ताओं और जनता का अपमान बताया। कहा कि मंत्री गिरिराज सिंह जनता समेत देश से माफी मांगें।

दरअसल, गुरुवार को सौंसर में छत्रपति शिवाजी चौक पर करीब 1 घंटे से कार्यकर्ता केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का स्वागत करने खड़े थे। केंद्रीय मंत्री यहां पहुंचे, तो उन्होंने शिवाजी प्रतिमा चौक पर रुकने से इंकार कर दिया। बाद में जैसे -तैसे मंत्री ने यहां शिवाजी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। उन्होंने कार्यकर्ताओं को प्रोटोकॉल का हवाला दिया। कार्यक्रम के संबंध में जानकारी नहीं होने की बात कही। इस बात पर कार्यकर्ता नाराज हो गए।

खबर आगे पढ़ने से पहले इस पोल पर अपनी राय दे सकते हैं...

नकुलनाथ ने किया ट‌्वीट

'हम एक घंटे से खड़े हैं, आप 10 मिनट नहीं दे सकते'

शिवाजी चौक पर खड़े कार्यकर्ता केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह से यहां शिवाजी की प्रतिमा स्थापित कराने की मांग करने आए थे। इस दौरान एक कार्यकर्ता ने मंत्री को बोल दिया कि हम एक घंटे से आपका इंतजार कर रहे हैं, आप 10 मिनट भी नहीं दे सकते। केंद्रीय मंत्री ने उन्हें वापस लौटने के दौरान यहां रुकने का आश्वासन दिया। इसके बाद मंत्री भड़क गए।

नकुल नाथ बोले - जनता से माफी मांगें गिरिराज

शुक्रवार को छिंदवाड़ा सांसद नकुलनाथ ने ट्वीट कर सौंसर में हुए इस घटनाक्रम को शिवाजी और भाजपा कार्यकर्ताओं का अपमान बताया। सांसद ने कहा कि केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने जिले में राजनैतिक लाभ के लिए मराठा गौरव शिवाजी महाराज की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। मंत्री ने शिवाजी की प्रतिमा के पास भारत माता की जय के नारे रुकवा कर भाजपा कार्यकर्ताओं पर अभद्र टिप्पणी करना निंदा और अपमानजनक है।

कमलनाथ सरकार ने हटा दी थी शिवाजी की प्रतिमा

गौरतलब है कि इसी छत्रपति शिवाजी चौक पर पूर्व में कमलनाथ सरकार के दौरान शिवाजी प्रतिमा हटा दी गई थी, जिसके बाद बवाल हुआ था। उस समय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान विशेष रूप से सौंसर पहुंचे थे। उन्होंने हुंकार भरते हुए शिवाजी प्रतिमा की स्थापना कराई थी।

खबरें और भी हैं...