जिंदगी की जंग हार गया आरक्षक:सडक़ हादसे के बाद हुआ था घायल, नागपुर में उपचार के दौरान हुई मौत

छिंदवाड़ा22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

चांदामेटा थाने में पदस्थ एक आरक्षक की इलाज के दौरान नागपुर में मौत हो गई। आरक्षक एक सडक़ दुर्घटना में घायल हुआ था , जिसका इलाज नागपुर के एक निजी अस्पताल में जारी था। अंतिम संस्कार के लिए आरक्षक का शव उत्तर प्रदेश ले जाया गया । दरअसल आरक्षक अजीत यादव का तबादला कोरोना काल के बाद जुन्नारदेव से चांदामेटा थाने में हुआ था ।

आरक्षक जुन्नारदेव से रोज चांदामेटा तक अपडाउन करता था इस दौरान 20 अक्टूबर 2021 को जुन्नारदेव में साई मंदिर के समीप उसका एक्सीडेंट हो गया । जिसे घायल अवस्था में जुन्नारदेव अस्पताल ले जाया गया , बाद में नागपुर रेफर कर दिया गया । जहां 6 नवंबर 2021 को उसकी मौत हो गई । डॉक्टरों ने ब्रेन में फेक्चर, लंग्स में पानी भरने और इन्फेक्शन की वजह से मौत होना बताया है।

उत्तर प्रदेश भेजा जाएगा आरक्षक का शव
पुलिस के मुताबिक आरक्षक अजीत यादव मूलत: उप्र के जौनपुर जिला बादशाह तहसील के ग्राम पवारा का रहने वाला था, जिसका शव पुलिस के द्वारा उप्र भेजा जाएगा। वहीं चांदामेटा और जुन्नारदेव पुलिस ने हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है।

खबरें और भी हैं...