• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Chhindwara
  • While Breaking The Capsule Found On The Way To Damua, The Paws Of The Young Man's Hand Were Blown Off, The Police Is Investigating

छिंदवाड़ा में उड़ा हाथ का पंजा:दमुआ के रास्ते में पड़े मिले कैप्सूल को पत्थर से फोड़ते वक्त युवक के हाथ के पंजे के उड़े परखच्चे

छिंदवाड़ा7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छिंदवाड़ा के दमुआ में रास्ते मे पड़े डायनामाइट कैप्सूल के विस्फोट से गुर्रे खुरईमऊ पंचायत के दूधपानी में रहने वाले एक शख्स के हाथ का पंजा बुरी तरह से जख्मी हो गया जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसा सोमवार दोपहर 12 बजे के आसपास का है। घायल युवक रमसु पिता सुकरलाल शीलू के अनुसार उसे यह विस्फोटक रामपुर से घर लौटते वक्त नूनखडक और तानसी के बीच रास्ते में सोमवार सुबह ही मिला था।

उसने इस कैपसूल को फोडऩे का प्रयास किया जिसके बाद अचानक विस्फोट हुआ और हादसे में कैप्सूल का विस्फोटक (बारूद) उसके दाहिने पंजे को ले उड़ा। इस विस्फोट से उसके पंजे के परखच्चे उड़ गए। हादसे के बाद युवक के रिश्तेदार ने उसे से बाइक से दमुआ के सामुदायिक स्वास्थय केंद्र लेकर आया जहां उसे जिला चिकित्सालय रिफर किया गया है।
पुलिस कर रही जांच, कहां से आया कैपसुल
घटना के तुरंत बाद दमुआ अस्पताल पहुंचे एसआइ मोरेश्वर परिहार ने घायल रमसु से बयान लिया है जिसके अनुसार वह इस बात की तफ्तीश में जुट गए है कि आखिर यह विस्फोटक कैपसुल रास्ते में कैसे मिला। गौर किया जाए तो कोयला खदानों में विस्फोट के लिए उपयोग में लाया जाने वाले विस्फोटक (डायनामाइट कैप्सूल) किसकी लापरवाही से रास्ते में गिर गया।

वैसे कोयलांचल की भूमिगत कोयला खदानों में उपयोग किए जाने वाले विस्फोटक से होने वाले हादसों में यह पहला नहीं है। इससे पहले भी क्षेत्र में ऐसे हादसे हुए हैं। अंदेशा यह भी है कि क्षेत्र के ग्रामीण इन विस्फोटकों का उपयोग मछली मारने के लिए तो नहीं कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...