पूरा वेतन देने की मांग:आशा कार्यकर्ताओं को दिसंबर से नहीं मिला वेतन, काम पूरा लिया जा रहा

दमोह2 महीने पहले

दमोह में वेतन न मिलने से आशा कार्यकर्ता काफी परेशान हैं। उन्हें अपना जीवन-यापन करने में काफी कठिनाई हो रही है। शुक्रवार को तेंदूखेड़ा ब्लॉक की दर्जनों महिलाएं कलेक्ट्रेट पहुंची और ज्ञापन देकर अपने पूरा वेतन देने की मांग की है।

महिलाओं का कहना है कि उन्हें दिसंबर से लेकर अभी तक वेतन नहीं मिला है। आधा वेतन दिया जा रहा है। जिससे उनका गुजारा नहीं हो रहा। उनसे कोविड के समय में भी पूरा काम लिया गया, उसके एवज में उन्हें प्रति व्यक्ति 200 रूपए बोनस की बात कही गई थी, लेकिन न तो बोनस मिला है और न ही उन्हें वेतन दिया जा रहा है। इसके पहले भी कई बार अपनी मांग कर चुकी है। ज्ञापन दे चुकी है लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। एक बार फिर कलेक्टर के पास अपनी मांग लेकर आई है। उन्हें महज 2000 रूपए मानदेय मिलता है, वह भी पूरा नहीं मिल रहा।