टिकट को लेकर भाजपा में असमंजस:3 वार्डों में नहीं मिल रहे प्रत्याशी, कांग्रेस में ऐसे सेंध लगा सकती है पार्टी

दमोह3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दमोह में नगरीय निकाय चुनाव में अपनी सत्ता काबिज करने के लिए भाजपा कई हथकंडे अपना सकती है। खबर है कि शनिवार को धरमपुरा वार्ड में भाजपा एक बड़ा गेम खेलने जा रही है, जिससे सीधे तौर पर कांग्रेस को नुकसान होगा। भाजपा ने शुक्रवार को नगर पालिका और नगर पंचायत के पार्षद प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी। केवल हिंडोरिया नगर पंचायत ऐसी है, जहां की सूची अभी तक जारी नहीं हुई है। वहीं मजे की बात यह है कि दमोह नगर पालिका के 39 में से 3 वार्ड ऐसे हैं, जहां भाजपा अपने प्रत्याशी तय नहीं कर पाई है। जिसे लेकर कई तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है।

  • पहली चर्चा है कि धरमपुरा वार्ड में कांग्रेस से पूर्व पार्षद यशपाल ठाकुर को प्रत्याशी बनाना तय है, इसलिए यशपाल के सामने भाजपा से कोई प्रमुख दावेदार चुनाव लड़ने को तैयार नहीं है। अब पार्टी यहां पर किसी भी कार्यकर्ता को अपना प्रत्याशी बना सकती है।
  • दूसरी चर्चा है कि भाजपा यशपाल ठाकुर को कांग्रेस से खींचकर अपने खेमे में लाना चाहती है और उसे अपना प्रत्याशी घोषित करना चाहती है। इस बात में सच्चाई कितनी है तय नहीं है, लेकिन यह चर्चा जरूर है।
  • फुटेरा वार्ड 4 में जहां करीब 35 सालों से भाजपा से पार्षद चुने जा रहे नरेंद्र सिंह चंदेल और पूर्व युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष प्रमोद विश्वकर्मा के बीच पेंच फंस गया है। ये दोनों ही इस वार्ड से टिकट मांग रहे हैं। खबर है कि प्रमोद विश्वकर्मा ने पार्टी को साफ कह दिया है कि यदि उसे टिकट नहीं मिलता तो वह पार्टी छोड़ सकता है।
  • सिविल वार्ड 8 को लेकर खबर है कि शराब ठेकेदार संजीत राय को भाजपा अपना पार्षद पद का प्रत्याशी के साथ अध्यक्ष पद का प्रत्याशी घोषित करना चाहती है, लेकिन संजीत के बड़े भाई भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा प्रदेश महामंत्री संजय राय इस फैसले पर सहमत नहीं है। उन्होंने पार्टी को चेतावनी दी है कि यदि संजीत को टिकट दी गई तो वह त्यागपत्र दे देंगे। यदि संजीत को टिकट नहीं मिलती तो भरत यादव की यहां से टिकट कंफर्म कर दी जाएगी।