• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Damoh
  • Former JIP President Shivcharan Patel Along With Senior Party Leaders Had Leveled Allegations Against BJP District President, President Is Not Responding

आरोप गंभीर, फिर भी दमोह BJP ‌जिलाध्यक्ष मौनआरोप गंभीर, फिर:जिपं पूर्व अध्यक्ष शिवचरण पटेल ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ भाजपा जिलाध्यक्ष पर लगाए थे आरोप, अध्यक्ष नहीं दे रहे प्रतिक्रिया

दमोह2 महीने पहले

दमोह भाजपा में राजनीतिक घमासान चल रहा है। 2 दिन पहले जिला पंचायत के पूर्व अध्यक्ष शिवचरण पटेल ने केंद्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल के आवास पर भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के साथ भाजपा जिलाध्यक्ष पर भी गंभीर आरोप लगाए थे, लेकिन जिला अध्यक्ष ने प्रतिक्रिया देने के बजाय मौन धारण कर लिया है। उनका कहना है कि उन्होंने अपनी शिकायत वरिष्ठ नेताओं तक पहुंचा दी है, इससे ज्यादा कुछ नहीं कहना चाहते।

आपको याद होगा कि 3 दिन पहले केंद्रीय राज्य मंत्री पटेल ने अपने सरकारी आवास पर एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया था जिसमें उन्होंने भाजपा द्वारा घोषित जिला पंचायत अध्यक्ष के प्रत्याशी पर और बगैर नाम लिए पार्टी के कुछ नेताओं पर षड्यंत्र के आरोप लगाए थे। इसके बाद पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल ने मध्य प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव, पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया, पूर्व विधायक लखन पटेल और भाजपा जिला अध्यक्ष प्रीतम सिंह लोधी पर आरोप लगाते हुए कहा था कि इनके षडयंत्र के कारण ही दमोह में भाजपा का जिला पंचायत अध्यक्ष नहीं बन पाया। पटेल द्वारा आरोप लगाए जाने के तत्काल बाद भाजपा जिला अध्यक्ष प्रीतम सिंह लोधी सीधे भोपाल पहुंचे और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और वरिष्ठ नेताओं के सामने दमोह में हुए इस घटनाक्रम को रखा। ऐसी उम्मीद थी कि वापस दमोह आने पर जिला अध्यक्ष अपनी प्रतिक्रिया देंगे, लेकिन उन्होंने पूरी तरह मौन धारण कर लिया।

नपा अध्यक्ष प्रत्याशी घोषित होने को लेकर चल रहा घमासान

इस समय दमोह में नगर पालिका अध्यक्ष के लिए भाजपा और कांग्रेस दोनों को अपने प्रत्याशी घोषित करने है। भाजपा में 4 दावेदार हैं और सभी अपनी ताकत लगा रहे हैं। ऐसा माना जा रहा है कि मंत्री पटेल को ही ये तय करना है, लेकिन उनके बंगले से भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को लगाए आरोप के घटनाक्रम के बाद अब परिस्थितियां बदलती नजर आ रही हैं। जिले के प्रभारी मंत्री व राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत रायशुमारी करने के लिए पहुंच गए और अपनी रिपोर्ट प्रदेश अध्यक्ष को भेज दी है।

खबरें और भी हैं...