• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Damoh
  • Reaching The Police Station, He Said If Security Is Not Found, Then You Will Have To Leave Damoh

भाजपा नेता ने दंड भरकर मांगी सुरक्षा:थाने पहुंचकर बोले - सुरक्षा नहीं मिली तो दमोह छोड़कर जाना पड़ेगा

दमोहएक महीने पहले

दमोह के हटा में रहने वाले भाजपा नेता पुष्पेंद्र हजारी दमोह से पलायन करना चाहते हैं। सोमवार को उन्होंने दंड भरते हुए थाने पहुंचकर पुलिस से सुरक्षा की मांग की है। उनका कहना है कि जिन आरोपियों ने उनके बेटे पर गोलियां चला कर जानलेवा हमला किया था, वह उन्हें और उनके गवाहों को जान से मारने की धमकी दे रहे। उन्हें जान का खतरा है।

आरोपी जैसे ही जेल का जेल से छूटकर आएंगे वह फिर उनकी जान लेने का प्रयास करेंगे। उन्हें पुलिस सुरक्षा व्यवस्था मुहैया नहीं करा रही है, इसलिए वह अब हटा छोड़कर कहीं भी चले जाएंगे। वह दंड भरते हुए पुलिस थाने पहुंचे और पुलिस अधिकारियों से अपनी सुरक्षा की मांग की है।

भाजपा नेताओं का समर्थन न मिलने पर उन्होंने कहा कि ये भाजपा के नेताओं की असंवेदनशीलता है, जो उन्हें कोई सहयोग नहीं कर रहा। उनका कहना है कि यदि उन्हें सुरक्षा नहीं दी जाती, तो उन्हें मजबूरी में अपना घर छोड़कर कहीं भी जाना पड़ेगा। कहां जाएंगे के सवाल पर बोले, दुनिया बहुत बड़ी है] जहां भी जाएंगे कम से कम सुरक्षित तो रहेंगे। फिलहाल हटा थाने में उनका जमावड़ा लगा हुआ है और अधिकारी उन्हें सुरक्षा का पूरा भरोसा दे रहे हैं।

एसडीओपी हटा वीरेंद्र बहादुर सिंह का कहना है कि उनके लिए सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराई गई है। उनके द्वारा जो आरोप लगाए जा रहे हैं, उस मामले में उनसे कहा गया है कि जो आरोपियों के द्वारा दी जा रही धमकी को लेकर कोर्ट में परिवाद पेश करें। कोर्ट के आदेश के बाद आगे की कार्रवाई करेंगे। जो मामला पहले घटित हुआ था, उस मामले में आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जा चुकी है।

वहीं, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रीतम सिंह लोधी का कहना है कि पुष्पेंद्र जारी भाजपा में नहीं है। यह बात जरूर है कि उनका बेटा अनुराग वर्धन हजारी भाजपा में जिला उपाध्यक्ष हैं, लेकिन इस विरोध प्रदर्शन में अनुराग वर्धन शामिल नहीं है, इसलिए हम उन्हें भाजपा का नहीं मान सकते हैं।

ये है पूरा घटनाक्रम

हटा में रहने वाले भाजपा जिला अध्यक्ष अनुराग वर्धन उर्फ पूजल हजारी पर उसके ही चचेरे भाई सक्षम हजारी ने 10 अप्रैल को अंधाधुंध गोलियां चलाई। इस घटनाक्रम में पूजल तो बच गया, लेकिन उसके वाहन चालक के पीठ में गोली लग गई। गंभीर हालत में उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और उसके खिलाफ धारा 307 के तहत मामला भी दर्ज किया, बाद में उसे न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है, फिलहाल आरोपी जेल में हैं।