• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Damoh
  • Said The Party Has Become The Big Leader Of The Country, Everyone Knows What Happened To Them

राजस्व मंत्री का पूर्व मंत्री मलैया के बेटे पर निशाना:बोले- देश के बड़े नेता बना चुके पार्टी, उनका जो हुआ सबको पता है

दमोहएक महीने पहले

दमोह नगरीय निकाय चुनाव में तीसरी अघोषित पार्टी के रूप में चुनाव मैदान में उतरे मध्य प्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ मलैया के बहाने प्रदेश के राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने देश के कई बड़े नेताओं पर निशाना साधा है। पार्टी छोड़ने और नई पार्टी बनाने को लेकर किए गए सवाल पर राजपूत ने कहा कि देश के बहुत बड़े बड़े नेता पार्टियां बना चुके हैं। मैं उनके नाम नहीं लेना चाहता, लेकिन उनका क्या हाल हुआ है ये सभी जानते हैं। पार्टी बनाना कोई आसान काम नहीं है। भारतीय जनता पार्टी विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है, जिसके सामने कांग्रेस जैसी पार्टी भी पानी भर रही है। छोटी पार्टियों के बारे में क्या कहना।

दमोह के प्रभारी मंत्री गोविंद सिंह राजपूत शुक्रवार सुबह दमोह में आयोजित पौधरोपण कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहुंचे थे। यहां पर मीडिया से रूबरू होते हुए उन्होंने नगरीय निकाय चुनाव को लेकर हुई चर्चा में कहा कि चुनाव चल रहे हैं और भारतीय जनता पार्टी के पार्षद नगर पालिका में चुनाव जीतेंगे। नगर पालिका अध्यक्ष भाजपा का बनेगा। इसके बाद जो दमोह शहर का विकास अवरुद्ध है वह तेजी से आगे बढ़ेगा।

नगरीय निकाय चुनाव में दमोह नगर पालिका का चुनाव चर्चा का केंद्र बना हुआ है। कारण ये है कि यहां पर भाजपा से इस्तीफा देकर निर्दलीय प्रत्याशियों को समर्थन देकर पूर्व वित्त मंत्री के बेटे सिद्धार्थ मलैया पार्षद का चुनाव लड़ा रहे हैं। जिससे सीधे तौर पर भाजपा को नुकसान होने की संभावना है। सिद्धार्थ के निर्दलीय समर्थकों के दल को TSM यानी टीम सिद्धार्थ मलैया का नाम दिया गया है। इस अघोषित पार्टी को लेकर शहर में काफी चर्चा है और अब बड़े-बड़े नेता भी TSM को लेकर अपनी प्रतिक्रिया देने लगे हैं।

कुछ दिन पहले केंद्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल ने बगैर नाम लिए मलैया पर निशाना साधते हुए उन्हें पार्टी छोड़ने पर पीठ में छुरा घोपने वाला कहा था। अब राजस्व मंत्री ने अपना एक बयान जारी किया है। हालांकि मंत्री राजपूत का बयान सीधे तौर पर सिद्धार्थ मलैया के लिए नहीं लग रहा है। उनका बयान भाजपा के बड़े नेता की ओर इशारा कर रहा है। वहीं केंद्रीय राज्य मंत्री प्र हलाद पटेल के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए सिद्धार्थ ने कहा था कि हमने केवल पार्टी छोड़ी है, लेकिन वो तो पार्टी छोड़कर दूसरी पार्टी में चले गए थे।

खबरें और भी हैं...