• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Damoh
  • Tribals Made A Great Contribution In The Freedom Movement Of The Country: Union Minister Of State

आयोजन:आदिवासियों का देश के स्वतंत्रता आंदोलन में महान योगदान रहा: केंद्रीय राज्यमंत्री

दमोह7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सिंग्रामपुर में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी राजा शंकर शाह और रघुनाथ शाह के बलिदान दिवस पर कार्यक्रम को संबोधित करते केंद्रीय राज्यमंत्री पटेल। - Dainik Bhaskar
सिंग्रामपुर में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी राजा शंकर शाह और रघुनाथ शाह के बलिदान दिवस पर कार्यक्रम को संबोधित करते केंद्रीय राज्यमंत्री पटेल।

सिंग्रामपुर में रविवार की देर शाम स्वतंत्रता संग्राम सेनानी राजा शंकर शाह और रघुनाथ शाह के बलिदान दिवस पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग एवं जलशक्ति राज्यमंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने अपने संबोधन में कहा कि जहां इन्हें अंग्रेजों द्वारा तोप से उड़ाया गया था, उस स्थल पर जाकर दर्शन करें, वह एक पवित्र तीर्थ है। उन्होंने रानी दुर्गावती की राजधानी सिंगौरगढ़ और आदिवासियों के योगदान तथा बलिदान पर विस्तार से अपनी बात रखते हुए कहा कि इससे पूर्व का भी इतिहास होगा, पर इस बारे में स्पष्ट नहीं है।

सोलहवीं शताब्दी का समय महत्वपूर्ण समय रहा।उन्होंने कहा जनजातियों के बलिदान के इतिहास की जानकारी देखेंगे तो कोई शताब्दी खाली नहीं है जहां आदिवासियों का देश के स्वतंत्रता आंदोलन में योगदान न रहा हो। आप सब उनके बलिदान के बारे में जाने, इतिहास का अध्ययन करें। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा बलिदानियों को वह स्थान नहीं मिला जो मिलना चाहिए था।

वनमंत्री शाह बोले- नौरादेही क्षेत्र से जो लोग हटेंगे उन्हें अच्छा पैकेज मिलेगा
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने कहा अमर बलिदानों को भुलाना बहुत बड़ा पाप है, उन बलिदानियों को अपने परिवार और खानदान की चिंता नहीं रही। हम सब उनके जन्म जयंतियों को मनाएं, आने वाली पीढ़ी आपका सम्मान करेगी। इस परंपरा को कायम रखें, अपनी बात के दौरान राजा हृदय शाह तेजगढ़ की भी विस्तार से चर्चा की। उन्होंने राजा शंकर शाह, राजा रघुनाथ शाह और अमर बलिदानों के चरणों पर नमन करते हुए अपनी बात समाप्त की। इस दौरान उन्होंने स्वतंत्रता आंदोलन के लिए अपने प्राणों को निछावर करने वाले वीर योद्धाओं की जिनमें आदिवासी राजाओं का विशेष उल्लेख करते हुए याद किया।

इस अवसर पर वन मंत्री डॉ. कुंवर विजय शाह ने कहा कल का दिन मप्र के लिए ऐतिहासिक दिन और यादगार दिन रहा जब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दूसरे महाद्वीप से आठ चीते प्रदेश को सौंपा। हम टाइगर स्टेट हैं, यहां पर 526 टाइगर हैं, कल 8 चीते यहां आए हैं और 12 चीते और भी शीघ्र आने वाले हैं। उन्होंने कहा नौरादेही में चीतों को बसाया जाएगा, जो 5 मादा और 3 नर आए हैं, उनके बच्चों को नौरादेही और गांधी सागर में शिफ्ट किया जाएगा।

वन मंत्री डॉ. शाह ने नौरादेही से विस्थापितों के लिए एक महत्वपूर्ण बात रखते हुए कहा कि केंद्रीय राज्यमंत्री प्रहलाद सिंह पटेल और मुख्यमंत्री के प्रयासों से नौरादेही क्षेत्र से जो लोग हटेंगे उन्हें अच्छा पैकेज मिलेगा। इस मौके पर केंद्रीय राज्यमंत्री श्री पटेल और वन मंत्री शाह ने उत्कृष्ट कार्य करने वाली वन समिति उनके उल्लेखनीय कार्य के लिए सम्मानित किया। साथ ही शराबबंदी और वनों की सुरक्षा के लिए भी कार्य करने वालों का सम्मान किया गया।

इसके अलावा शिवानी, संध्या, छात्र राघवेंद्र सिंह, नंदनी, दीपा सहित अन्य छात्रों का मंत्री द्वय द्वारा उत्कृष्ट परीक्षा परिणाम लाने पर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में पूर्व मंत्री दशरथ सिंह, खड़क सिंह, अरविंद सिंह, जूदेव मूरत सिंह, रूपेश सेन आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...