MP में नीलगाय को पीट-पीटकर मार डाला:लाठी-डंडों से पीटने के बाद ट्रैक्टर से बांधकर 1KM तक घसीटा

राधावल्लभ मिश्रा (दतिया)6 महीने पहले

ग्वालियर संभाग के दतिया में जानवर से क्रूरता का एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। मवेशी के बाड़े में घुसी नील गाय काे घेरकर तब तक पीटा गया, जब तक की उसकी सांसें नहीं थम गई। लोगों की हैवानियत यहीं नहीं रुकी। नीलगाय की मौत के बाद उसे ट्रैक्टर के पीछे बांधा गया। करीब एक किमी गांव की गलियों से घसीटते हुए दूर ले जाकर फेंक दिया गया।

घसीटने से गाय की खाल तक उधड़ गई। इस पूरी घटना का गांव के ही किसी व्यक्ति ने वीडियो बनाया और उसे सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया। सूचना मिलते ही पुलिस और वन विभाग की टीम हरकत में आई और तत्काल गांव पहुंची। यहां शव को कब्जे में लेकर वन विभाग ने पीएम कराया और ट्रैक्टर को जब्त कर थाने में खड़ा कर लिया गया।

मामला धीरपुरा थाना क्षेत्र के गांव अकोला का है। बताया जा रहा है कि मंगलवार शाम नीलगाय कंचन नामक व्यक्ति के यहां मवेशियों के बाड़े में घुस आई थी। नीलगाय के गांव में घुसने की सूचना पर गांव के कुछ लोगों ने उसे घेर लिया और लाठी-डंडे से पीटना शुरू कर दिया। नीलगाय भागी तो इन्होंने पीछा किया, जिसमें कुछ ग्रामीण चोटिल भी हुए। इसके बाद भी इन्होंने पीछा कर उसे पीटा, पिटाई के कारण नीलगाय की मौत हो गई।

गांव पहुंची दैनिक भास्कर की टीम को ग्रामीणों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि नीलगाय को कुछ लोगों ने बुरी तरह से पीटा था। लहूलुहान होने के बाद भी वे डंडे बरसा रहे थे। नीलगाय की मौत होने के बाद एक युवक ट्रैक्टर लेकर आया और उसे बांधकर करीब एक किमी तक घसीटा और गांव के बाहर फेंक आया।

ग्रामीण बोले - नीलगाय पगला गई थी
मामले में जब भास्कर की टीम ने गांववालों से बात की तो उनका कहना था कि नीलगाय पागल हो गई थी, बार-बार उसे जंगल में खदेड़ते थे, लेकिन वह वापस आ जाती थी। वह मवेशियों के बाड़े में घुसकर अन्य जानवरों को परेशान करती थी। इस कारण कुछ दिनों से गांववाले उससे काफी परेशान हो गए थे। ग्रामीणों का आरोप है कि उन्होंने वन विभाग को इसकी सूचना दी, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। नीलगाय बाड़े में घुसी, उसे भगाने के चक्कर में यह घटना घटित हुई।

ट्रैक्टर चोरी कर घटना को दिया अंजाम
धीरपुरा थाना प्रभारी दर्शन शुक्ला ने बताया कि जानकारी मिलने पर वन विभाग की टीम के साथ गांव गए थे। नीलगाय के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराकर उसका अंतिम संस्कार कराया गया है। जिस ट्रैक्टर से बांधकर उसे नीलगाय को घसीट गया है। उसे जब्त कर लिया गया है। इसी के साथ उन्होंने बताया कि घटना के वक्त ट्रैक्टर मालिक गांव में नहीं था। किसी ने ट्रैक्टर चोरी कर यह कृत्य किया है। आरोपी के बारे में पता लगाया जा रहा है।