• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Datia
  • Every Seventh Patient Suffering From Corona Has Diabetes, Out Of Which 63% Have High BP And 50% Have Heart Disease.

रिपोर्ट में दावा:कोरोना से पीड़ित हर सातवें मरीज को है डायबिटीज इनमें से 63% को हाईबीपी और 50% लोगों को दिल की बीमारी

दतिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कारोना संक्रमण की लहर जिले से भले ही पूरी तरह से विदाई ले चुका है, लेकिन इस बीमारी के प्रकोप को झेल चुके लोगों में से हर सातवां व्यक्ति मधुमेह यानी शुगर की बीमारी से पीड़ित हो गया है। यह दावा हाल ही में जर्नल ऑफ कार्डियोवेस्कुलर में प्रकाशित रिपोर्ट में मेडिकल कॉलेज दतिया के सहायक प्राध्यापक डॉ. हेमंत जैन ने किया है। मधुमेह पीड़ित मरीजों में से 63 फीसदी मरीज हाई-बीपी और 50 फीसदी मरीज दिल की बीमारी से पीड़ित हुए हैं।

डॉ. जैन ने कोरोना काल में इस महामारी से पीड़ित हुए 610 लोगों के सैंपल पर सर्वे किया है। सर्वे में सामने आया है कि, इस महामारी से पीड़ित हुए मरीजों में से करीब 13.7 फीसदी यानी 84 मरीजों को हाईशुगर की बीमारी दी है। शुगर की बीमारी पुरुषों में अधिक हुई है। करीब 49 पुरुष कोरोना होने के बाद मधुमेह से पीड़ित हुए हैं, जबकि 35 महिलाएं भी कोरोना संक्रमण होने के बाद शुगर की बीमारी की चपेट में आई हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, 19 से 30 वर्ष के 7, 31 से 40 वर्ष के बीच 13, 41 से 50 वर्ष के बीच 24, 51 से 60 वर्ष के बीच 28 और 60 वर्ष से अधिक उम्र के 12 लोगों को कोरोना के बाद शुगर जैसी गंभीर बीमारी ने अपना शिकार बनाया है।

हाईबीपी, हार्ट और फेंफड़ों की बीमारी से भी जूझ़ रहे लोग

डॉ. जैन ने बताया कि, जिन 84 मरीजों को शुगर की बीमारी हुई है। उसमें से 63.1 फीसदी यानी करीब 53 मरीज हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी से भी जूझ रहे हैं। जबकि 42 मरीजों को दिल की बीमारी हुई है। इनमें से भी 36 मरीज फेफड़ों से संबंधित बीमारी हो गई है। यह मरीज नियमित रूप से डॉक्टर्स की सलाह ले रहे हैं। डॉ. जैन के मुताबिक शुगर की बीमारी से जूझ रहे हाई-बीपी के मरीजों को दिल की बीमारी और लकवा की शिकायतें भी अब सामने आने लगीं हैं।

फैमली हिस्ट्री और मोटापा भी शुगर की वजह

डॉ. जैन के मुताबिक, कोरोना के दौरान जो भी व्यक्ति शुगर या मधुमेह से पीड़ित हुए हैं उसके पीछे सबसे बड़ी वजह मोटापा और उन मरीजों की फैमिली हिस्ट्री भी है। रिसर्च के दौरान डॉ. जैन ने पाया कि जिन 84 लोगों को शुगर हुई है उनमें से 61 मरीज ऐसे थे जो कि मोटापे से ग्रसित थे। जबकि ऐसे मरीज भी सामने आए हैं जिन्हें पारिवारिक रूप से यह बीमारी मिली है। ऐसे लोगों की संख्या 45 है। डॉ. जैन के मुताबिक जेनेटिक शुगर भी दूसरी पीढ़ी को इस बीमारी से पीड़ित कर रही है।

खबरें और भी हैं...