• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Datia
  • The Accident Happened While Saving The Brother in law, The Marriage Took Place Only 6 Months Ago

नहर में डूबे युवक का दूसरे दिन मिला शव:साले को बचाने में हुआ था हादसा, 6 महीने पहले ही हुई थी शादी

दतिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर से करीब सात किलोमीटर दूर भूटान बैराज में मंगलवार दुपहर को डूबने से युवक की मौत हो गई। अगले दिन बुधवार की सुबह करीब 6 बजे घटनास्थल से लगभग आधा किलोमीटर की दूरी पर शव मिलने से खलबली मच गई। सिविल लाइन थाना पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करा कर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया है औऱ मामले की जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार शिवपुरी जिले के मायापुर में रहने वाला 20 वर्षीय अरुण पिता रामजी कंजर का विवाह 6 महीने पहले झड़िया कंजर डेरा निवासी लड़की के साथ हुआ था। हाल ही में अरुण अपनी ससुराल आया था।

मंगलवार सुबह वह अपनी पत्नी, 12 वर्षीय साला सत्येंद्र, सास रूपा कंजर सहित ससुराल के अन्य लोगों के साथ रैंड़ा गांव के पास स्थित भूटान बैराज पर नहाने के लिए गया था। पत्नी और सास कपड़े धो रही थी। जबकि अरुण और उसका साला सत्येंद्र नहर किनारे पर खड़े होकर नहा रहे थे।

नहाते वक्त सत्येंद्र का पैर फिसला और वह नहर में जा गिरा। सत्येंद्र को बचाने के लिए अरुण ने भी नहर में छलांग लगा दी।सत्येंद्र ने बैराज के गेट पकड़ लिए जिससे वह बहने से बच गया। उसे परिवार के लोगों ने बचा लिया जबकि अरुण तेज बहाव में बह गया।

अरुण के ससुराल वालों ने परिवार और गांव के लोगों को बुलाकर सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक उसकी तलाश की लेकिन अरुण का कहीं पता नहीं चल सका।

सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुँची पुलिस ने एनडीआरएफ टीम की मदत से शव की तलाश शुरू की, इस के बाद सुबह करीब 6 बजे अरुण का शव घटना स्थल से करीब आधा किलोमीटर दूर से झाड़ियों में फंसा मिला।

जिसे पुलिस ने नहर से बाहर निकल और जिला अस्पताल में पीएम कराकर शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। शब को देख परिजनों में कोहराम मच गया और उनका रो-रो कर बुरा हाल है।

खबरें और भी हैं...