रॉन्ग नंबर पर हाय-हेलो और डॉक्टर हनीट्रैप!:राजस्थानी गर्ल ने 9 लाख ऐंठे; 2 डॉक्टर और लड़की ने मिलकर रची साजिश

अशोक पटेल, देवास5 महीने पहले

आपके पास किसी रॉन्ग नंबर से कॉल आए या आ चुका है और आप इस रॉन्ग नंबर वाले पर्सन से लगातार बात कर रहे हैं तो ये खबर अलर्ट करने वाली है। आप मुसीबत में फंस सकते हैं। देवास के डॉक्टर के साथ ऐसा ही हुआ। डॉक्टर को रॉन्ग नंबर से आए कॉल पर हाय-हेलो करना 9 लाख का पड़ा। वे हनीट्रैप का शिकार हो गए। इस साजिश में देवास के ही दो डॉक्टर शामिल थे। उन्होंने भीलवाड़ा (राजस्थान) की युवती से डॉक्टर के फोटो-VIDEO बनवा लिए और फिर डरा-धमकाकर 9 लाख रुपए ऐंठ लिए।

गुरुवार देर रात युवती को गिरफ्तार कर देवास लाया गया। आज उसे पुलिस ने मुख्य न्यायिक मैजिस्ट्रेट शिव कुमार कौशल की कोर्ट में पेश किया। सीजेएम कोर्ट ने आरोपी जोया उर्फ मोनिष डेविड को 3 दिन के लिए पुलिस रिमांड पर दिया है।

पढ़िए, इस हनीटैप की पूरी कहानी...

देवास के डॉक्टर पवन कुमार चिल्लोरिया को हनीट्रैप में फंसाने की शुरुआत 3 महीने पहले 17 जून 2022 से होती है। उनके पास फोन आता है। आवाज लड़की की है।

युवती- आप डॉ. सिंघल बोल रहे हो?
डॉक्टर- नहीं, डॉ. पवन बोल रहा हूं। आपको मेरा नंबर कहां से मिला?
युवती- मैं डॉ. सिंघल को फोन लगा रही थी, लेकिन आपको लग गया।
(फोन कट जाता है। कुछ देर बाद युवती दोबारा डॉ. पवन को कॉल लगाती है। इस बार उसने अपना नाम जोया खान बताया।)
युवती- सॉरी, गलती से आपको नंबर लगा था। आपसे बात की तो लगा कि आप बहुत अच्छे इंसान हो, आपसे दोस्ती की जा सकती है...?

डॉक्टर ने भी दोस्ती का प्रपोजल एक्सेप्ट करते हुए अपनी पूरी जानकारी दे दी। बातचीत का सिलसिला चल पड़ा। युवती ने डॉक्टर को मुलाकात के लिए बुलाया और डॉक्टर के कुछ फोटो-VIDEO बना लिए। इसके बाद से ही ब्लैकमेल करने लगी।

साजिश के तीन किरदार...

देवास पुलिस ने आरोपी डॉ. संतोष दाबाड़े निवासी कैलादेवी रोड (देवास), जोया उर्फ मोनिषा डेविड निवासी भीलवाड़ा (राजस्थान) और डॉ. महेंद्र गालोदिया निवासी टोंकखुर्द (देवास) के खिलाफ केस दर्ज किया है।
देवास पुलिस ने आरोपी डॉ. संतोष दाबाड़े निवासी कैलादेवी रोड (देवास), जोया उर्फ मोनिषा डेविड निवासी भीलवाड़ा (राजस्थान) और डॉ. महेंद्र गालोदिया निवासी टोंकखुर्द (देवास) के खिलाफ केस दर्ज किया है।

पहले भी कई लोगों को फंसा चुकी है राजस्थानी गर्ल
डॉक्टर को हनीट्रैप में फंसाने वाली राजस्थानी गर्ल पहले भी कई लोगों को अपने जाल में फंसा चुकी है। उसने फोटो और वीडियो वायरल करने की धमकी देकर डॉक्टर को डरा-धमकाकर 9 लाख रुपए वसूल लिए। आरोपियों की प्लानिंग, डॉक्टर का आपत्तिजनक VIDEO बनाकर उससे और रुपए वसूलने की थी। लेकिन डॉक्टर ने पुलिस कम्प्लेन कर खुद को बचा लिया। पुलिस ने बताया कि भीलवाड़ा जिले में आरोपी जोया सरपंच और एक अन्य के खिलाफ दुष्कर्म के मामले दर्ज करा चुकी है। उसे आज देवास जिले में कोर्ट में पेश किया जाएगा।

मीडिया से बोली- आप किसी को भी फंसा देते हो...
बीती रात 1 सितंबर को देवास पुलिस उसे भीलवाड़ा से हिरासत में लेकर आ गई। उसे पकड़ने जब पुलिस सिविल ड्रेस में पहुंची तो वह कहने लगी, आप कौन हो, कहां ले जा रहे हो। देवास आने पर भी उसके तेवर देखने को मिले। उसने मीडियाकर्मियों से कहा कि आप किसी को भी अपराधी बना देते हो। मैं ऐसी नहीं हूं। जांच में सब कुछ साबित हो जाएगा। अभी बहुत कुछ खुलासा होगा।

हिरासत में आरोपी जोया, उसे बीती रात देवास लाया गया। जोया पर डॉक्टर को कॉल करके हनीट्रैप मामले में फंसाने का आरोप है।
हिरासत में आरोपी जोया, उसे बीती रात देवास लाया गया। जोया पर डॉक्टर को कॉल करके हनीट्रैप मामले में फंसाने का आरोप है।

डॉक्टर को फंसाने साजिश ऐसे रची...
डॉ. पवन कुमार चिल्लोरिया ने पुलिस को बताया था कि देवास के ही दो डॉक्टरों ने युवती को हनीट्रैप के लिए तैयार किया था। उन्होंने युवती को लाखों रुपए दिलवाने का झांसा दिया था। दोनों डॉक्टरों की साजिश ब्लैकमेलर युवती के जरिए उनके आपत्तिजनक वीडियो बनाकर उन्हें सोशल मीडिया पर वायरल करने की थी। साजिश के मुताबिक युवती को दोनों आरोपी डॉक्टरों के कहे अनुसार काम को अंजाम देना था। दोनों डॉक्टर डॉ. पवन कुमार से जलते थे।

ब्लैकमेल कर डॉक्टर को होटल बुलाया था
पहले युवती ने डॉक्टर से फोन पर बात कर दोस्ती की। साजिश के मुताबिक डॉक्टर को होटल में बुलाकर युवती को उसके साथ कुछ समय बिताना था। डॉक्टर के आपत्तिजनक स्थिति में आते ही उसे ​​​​आरोपी डॉक्टरों को मैसेज भेजना था। मैसेज मिलते ही दोनों आरोपी होटल के कमरे में पहुंचकर डॉक्टर को एक्सपोज करने और उसे ब्लैकमेल कर रुपए ऐंठने वाले थे। लेकिन डॉक्टर के होटल नहीं पहुंचने से साजिश फेल हो गई।

और खुलासे कर सकती है जोया
पुलिस का मानना है कि मामला और बड़ा हो सकता है। इसमें फरियादी पक्ष की भूमिका को लेकर भी बार-बार सवाल उठ रहे हैं। अंदरखाने पुलिस भी इसे लेकर सावधान है। पूछताछ और कोर्ट में बयान में जोया पलटवार कर सकती है। उसकी पेशी हनीट्रैप कांड के मद्देनजर बहुत महत्वपूर्ण मानी जा रही है।

ये भी पढ़ें:- देवास के डॉक्टर के साथ हनीट्रेप

खबरें और भी हैं...