राष्ट्रीय लोक अदालत का हुआ आयोजन:10 वर्षों से न्याय के लिए भटक रही दिव्यांग महिला को मिला न्याय, न्यायालय का जताया आभार

साेनकच्छ13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सोनकच्छ न्यायालय परिसर में नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया। लोक अदालत का शुभारंभ अतिरिक्त अपर जिला सत्र न्यायाधीश अरविंद्र गोयल, प्रथम श्रेणी न्यायाधीश स्वाति बजाज और न्यायाधीश पूर्णिमा कोठे के ओर से किया गया।

लोक अदालत के लिए तीन खंड पीठ का गठन किया गया था। न्यायाधीश अरविंद गोयल के न्यायालय में एक दिव्यांग महिला केशरबाई का जमीनी विवाद पिछले 10 वर्षों से न्यायालय में चल रहा था। लोक अदालत के माध्यम से दोनों पक्षों को बैठाकर न्यायाधीश ने राजीनाम करवाया और प्रकरण का निराकरण किया।

प्रकरण का निराकरण होने पर दिव्यांग महिला केशर बाई ने न्यायालय का आभार जताया है। साथ ही कहा कि पिछले दस वर्षों से मैं न्याय के लिए भटक रही थी। आज मुझे लोक अदालत के माध्यम से न्याय मिला है।

लोक अदालत की तीनों खंड पीठ में 50 से अधिक प्रकरणों का निराकरण हुआ। साथ ही मोटर दुर्घटना क्लेम, विद्युत और प्री लिटिगेशन के प्रकरणों में लाखों रुपए की वसूली हुई।

खबरें और भी हैं...