पिटगारा तिराहे पर नहीं रुक रहे हादसे:कंटेनर से टक्कर के बाद मंदिर में घुसा मिनी ट्रक, 2 लोगों को आई गंभीर चोट

बदनावर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

लेबड़ नयागांव फोरलेन पर गांव पिटगारा तिराहे पर हादसे रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। रात में एक बार फिर यहां हादसा हुआ है। इस हादसे में मिनी ट्रक की टक्कर से मंदिर क्षतिग्रस्त हो गया। दो लोग गंभीर घायल हो गए हैं। यह तिराहा दुर्घटनाग्रस्त जोन चिन्हित किया है, लेकिन दुर्घटनाओं को रोकने के लिए सड़क निर्माण कंपनी कोई ध्यान नहीं दे रही है।

मिनी ट्रक रात में मिर्ची के कट्टे लेकर खलघाट से भीलवाड़ा तेज गति से जा रहा था। इसी दौरान पिटगारा तिराहे पर सामने से आ रहे सीमेंट से भरे कंटेनर से मिनी ट्रक भिड़ गया। टक्कर इतनी जोरदार थी कि सीमेंट से भरा कंटेनर पेटलावद रोड की ओर मुड़ गया, जबकि मिनी ट्रक कोने में बने हनुमान मंदिर में घुस गया। इस टक्कर से मंदिर के आगे का पिलर टूट गया। हादसे में मिनी ट्रक चालक व एक अन्य व्यक्ति को गंभीर चोट आई है। पैरों में फ्रैंक्चर होने से दोनों को यहां सिविल हास्पिटल में प्राथमिक इलाज के बाद रतलाम रैफर किया है।

गौरतलब है कि गांव पिटगारा में लेबड़ नयागांव फोरलेन व बदनावर पेटलावद टूलेन मार्ग एक दूसरे को क्रास करते हैं। इसके अलावा सब्जी मंडी में भी बड़ी संख्या में वाहन इसी चौराहे से होकर गुजरते हैं। दिनभर वाहनों की गहमागहमी बनी रहती है। इससे दुर्घटनाएं होती रहती हैं।

स्पीड ब्रेकर पर न संकेतक बोर्ड लगा और न ही हुआ कलर
यहां तिराहे पर इंदौर व बदनावर की ओर जाने वाले मार्ग पर दोनों ओर फोरलेन पर स्पीड ब्रेकर बने हुए तो है, लेकिन यहां न स्पीड ब्रेकर का बड़ा संकेतक बोर्ड लगा और न ही स्पीड ब्रेकर पर कलर हुआ है। इससे यह स्पीड ब्रेकर दूर से वाहन चालकों को नहीं दिखते, जब वाहन पास में आता है तब यह दिखाई देते हैं। इस कारण एकाएक ब्रेक लगाने से वाहन असंतुलित हो जाते हैं और पीछे से आने वाले वाहन आगे जा रहे वाहनों से टकरा जाते हैं। ऐसे हादसे पहले भी कई बार हो चुके हैं। नागरिकों ने स्पीड ब्रेकर पर कलर करने व संकेतक बोर्ड लगाने की मांग की है, जिससे यह दूर से आसानी से दिख सके।

खबरें और भी हैं...