• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Dhar
  • Stone Pelted In Police Car Reached Village On Missing Woman, Three Policemen Injured, Gun Also Snatched

पुलिस टीम पर हमला:महिला की गुमशुदगी पर गांव पहुंची पुलिस की गाड़ी में पथराव, तीन पुलिसकर्मी घायल, बंदूक भी छीनी

धारएक महीने पहले

ग्राम खरबारी में शनिवार सुबह पुलिस टीम पर हमला हो गया। पुलिस अधिकारी यहां पर महिला की गुमशुदगी दर्ज होने पर दस्तेयाब करने पहुंचे थे। इसी दौरान महिला को लेकर जा रही पुलिस टीम पर अचानक कुछ लोगों ने हमला कर दिया, जिसमें तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए। घटना की जानकारी घायलों ने थाने पर दी, जिसके बाद थाने से अतिरिक्त पुलिस बल मौके पर पहुंचा व घायलों को प्राथमिक उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा गया।

हमला करने के दौरान कुछ लोगों ने पुलिस पर जंगली कुत्ते भी छोड़ दिए थे, जिनके काटने से प्रधान आरक्षक घायल हुए हैं। इधर पूरे मामले की सूचना मिलते ही समीप के थानों का पुलिसबल लेकर एडिशनल एसपी देवेंद्र पाटीदार भी मौके पर पहुंचे व घटना को लेकर जानकारी लेने के साथ ही आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए एक टीम भी बनाई गई है।

ग्राम चिकल्या निवासी गुलाब उर्फ गुल्ला की बेटी संगीता कुछ दिनों से लापता थी। पिता गुल्ला ने ग्राम खरबारी निवासी सुग्गा पिता सरदार पर बेटी को ले जाने की शंका जाहिर की थी। तिरला पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज की। शनिवार सुबह एएसआई मनीष भगोरे एएसआई, प्रधान आरक्षक महेंद्र राजपूत, प्रकाश भाभर गांव खरबारी पहुंचे, जहां पर पिता गुल्ला ने अपनी बेटी संगीता को पहचान लिया।

ऐसे में गांव की कार्रवाई के बाद पुलिस टीम महिला को लेकर पुलिस वाहन में जैसे ही बैठने लगी वैसे ही लोगों ने विवाद शुरू कर दिया, जिसके बाद पुलिस ने महिला को गांव में ही छोड़ दिया और वापस आने के लिए रवाना हुई, तभी सुग्गा सहित उसके साथियों ने पुलिस टीम पर अचानक हमला कर दिया। इस दौरान अज्ञात लोगों ने पुलिस पर जमकर पथराव किया, जिससे शासकीय वाहन को नुकसान हुआ है। साथ ही तीनों पुलिसकर्मी घायल हो गए।

जेल में हुई दोस्ती, पत्नी को लेकर भागा
दरअसल महिला संगीता का पति सुनिल एक प्रकरण में जेल में बंद हैं, इसी दौरान जेल में सुग्गा से उसकी दोस्ती हो गई। दोनों के बीच परिवार को लेकर बाते होने लगी, कुछ दिन बाद सुग्गा को जमानत मिल गई तो जेल से बाहर आ गया। तथा दोस्त सुनील के ससुराल ग्राम घोडाबाव में आना-जाना शुरु हो गया। दोस्त की पत्नी संगीता से मिलना-जुलना शुरु हुआ तो सुग्गा महिला को अपने साथ गांव खरबारी लेकर चला गया, जिसके बाद ही महिला के पिता गुलाब ने पुलिस में गुमशुदगी दर्ज करवाई थी। पुलिस टीम सुग्गा के घर पहुंची तो महिला संगीता अपने बच्चें के साथ मौजूद थी, तिरला पुलिस महिला को बयान लेने के लिए अपने साथ वाहन से लेकर थाने जा रही थी। इसी दौरान हमला हुआ है।

एसपी आदित्य प्रतापसिंह ने बताया कि‍ महिला की गुमशुदगी दर्ज होने के बाद सूचना के आधार पर पिता को लेकर पुलिस टीम ग्राम खरबारी पहुंची थी, महिला अपने बच्चें के साथ सुग्गा के घर पर मिली। इसी दौरान सुग्गा व उसके परिवार ने अचानक हमला कर दिया, जिसमें तीन पुलिसकर्मियों को चोट आई हैं मामले की जांच की जा रही है। तथा आरोपियों को चिन्हित कर लिया गया है।