• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Dhar
  • Surrounded By BJP On Reservation, District President Said BJP Is Conspiring To End The Reservation

कांग्रेस का दावा; 27% OBC टिकट दिया जाएगा:आरक्षण पर ‌BJP को घेरा, जिलाध्यक्ष बोले- रिजर्वेशन खत्म करने का षड्यंत्र रच रही है भाजपा

धारएक महीने पहले

ओबीसी आरक्षण को लेकर सुप्रीम कोर्ट से आए निर्देशों के बाद शुक्रवार को कांग्रेस कार्यालय में जिला अध्यक्ष और पूर्व विधायक बालमुकुंद सिंह गौतम ने प्रदेश में कांग्रेस द्वारा ओबीसी वर्ग के हितों को ध्यान में रखकर लिए निर्णयों के बारे में जानकारी दी। श्री गौतम ने बताया कि प्रदेश कांग्रेस पाटी ने निर्णय लिया है कि आगामी दिनों में होने वाले निकाय चुनाव में पार्टी अन्य पिछड़ा वर्ग के 27 प्रतिशत प्रत्याशियों को टिकट देगी, कांग्रेस की यह घोषणा ऐसे समय पर आई है कि जब सुप्रीम कोर्ट ने प्रदेश में बिना ओबीसी आरक्षण के निकाय चुनाव कराने का आदेश दिया है। क्योंकि मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार ने अदालत के सामने ओबीसी के बारे में भ्रामक व आधे अधूरे तथ्य प्रस्तुत किए। जबकि राज्य सरकार को प्रस्ताव पारित कर केंद्र सरकार से संविधान में संशोधन करने का आग्रह करना था, ताकि अन्य पिछडा वर्ग के लोगों को उनका संवैधानिक अधिकार मिल सके।

नीयत सामाजिक न्याय करने की

गौतम ने प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ द्वारा 27 प्रतिशत प्रत्याशियों को टिकट दिए जाने की घोषणा पर आभार व्यक्त करते हुए बताया कि श्री कमलनाथ की नियत सामाजिक न्याय दिलाने की रही हैं, विपक्ष में हाेने के बावजूद ओबीसी वर्ग को उनका संवैधानिक अधिकारी दे रहे हैं, इससे ही पता चलता है कि सत्ता में बैठे लोग सिर्फ बहानेबाजी करके ओबीसी हितैषी होने का पाखंड कर रहे है, जबकि असल में उनका चरित्र आरक्षण विरोधी है। वर्ष 2003 में कांग्रेस की सरकार में ओबीसी का आरक्षण 14 प्रतिशत से बढ़ाकर 27 प्रतिशत किया था, लेकिन बाद में बनी बीजेपी सरकारों ने 15 सालों में अदालतों में खराब पैरवी करके ओबीसी के 27 प्रतिशत आरक्षण को समाप्त हो जाने दिया, 2018 में जब कांग्रेस के कमलनाथ की सरकार बनी तो पुन आरक्षण दिया गया।

बदनावर में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार पंचायत व निकाय चुनावों में कांग्रेस की ओर से रहने वाली रणनीति को लेकर श्री गौतम ने कहा कि कांग्रेस आरक्षण सहित महंगाई के मुद्दे को लेकर जनता के बीच जाएगी, जिससे कांग्रेस को फायदा मिलेगा। साथ ही पंचायतों में हो रहे भ्रष्टाचार को भी उजागर किया जाएगा। जिला अध्यक्ष के अनुसार प्रदेश में सबसे अधिक भ्रष्टाचार औद्योगिक मंञी व बदनावर के विधायक राजवर्धन सिंह दत्तीगांव की विधानसभा की पंचायतों में होता हैं, जहां पर रेत की जगह सिर्फ डस्ट का उपयोग होता है। आरक्षण को लेकर प्रेस वार्ता में जानकारी देने के दौरान शहर कांग्रेस अध्यक्ष टोनी छाबडा व अशोक सोलंकी उपस्थित थे।