• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Guna
  • 83 Couples Tied The Knot In The Mass Marriage Conference Held In Ukavad And Dholbaaz

सामूहिक विवाह सम्मेलन:उकावद व ढोलबाज में हुए सामूहिक विवाह सम्मेलन में 83 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे

झागर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ग्राम पंचायत उकावद कला में धाकड़ समाज के सामूहिक विवाह सम्मेलन में 39 जोड़े परिणय सूत्र में विधि विधान‌ से बंधे। समाजजनाें ने बताया कि शादी-ब्याहों में बढ़ती हुई फिजूलखर्ची को रोकने और दहेज प्रथा जैसी कुरीतियों को समाप्त करने के लिए सामूहिक विवाह सम्मेलन के आयोजन मील का पत्थर साबित होते हैं। समाज से कुरीतियां दूर करने व सामाजिक सशक्तिकरण के लिए ग्राम उकावद कला में धाकड़ समाज के लोगों द्वारा एक सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन किया गया।

सम्मेलन स्थल पर एलईडी और ड्रोन कैमरों की मदद से पूरे सम्मेलन परिसर की निगरानी की जा रही। थी। सम्मेलन समिति द्वारा वर-वधु को उपहार स्वरूप गठबंधन सामग्री दी गई, जिसमें दो कुर्सी, पांच बर्तन, चांदी की बिजासन, कपड़े पिछोला, मेहंदी, मोहर, बाला, पटली, तोरणा आदि वरमाला के लिए दो माला दी गई। समिति के सदस्यों की ओर से वर वधु को सप्रेम भेंट दी गई। राजीव रामपुर कॉलोनी, अशोक कुमार धाकड़ की और से दीवार घड़ी दी गई।

मुख्य यजमान गिरराज धाकड़ उकावद कला, रामपुर कालोनी मनोज धाकड़, पंकज धाकड़ की और से किचिन सेट वर वधू को दिए गए। इस अवसर पर शुभ मुहूर्त में आचार्य पं. ललित कुमार शास्त्री ने वैदिक मंत्रोच्चार करते हुए फेरों का कार्यक्रम संपन्न करवाया ।

ढोलबाज में 46 जोड़े एक-दूजे के हुए

गुना| ग्राम ढोलबाज में लोधा समाज का आदर्श सामूहिक विवाह सम्मेलन 46 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे । राम जानकी मंदिर में गंगाजली पूजन के बाद बैंड बाजों के साथ गंगाजली यात्रा निकाली। शाम को प्रीतिभोज के बाद रात्रि में गोद भराई हुई। इसके बाद सभी दूल्हों ने तोरण मारा। आतिशबाजी के साथ विधि विधान से ब्राह्मणों ने पूजा करके ब्रह्म मुहूर्त में फेरे संपन्न कराए। सम्मेलन समिति द्वारा प्रत्येक जोड़े को 11 बर्तन दिए एवं समाजसेवियों ने पैर पूजन कर वर-वधु को उपहार दिए।

खबरें और भी हैं...