• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Guna
  • A Young Man Died After Falling Into A 20 Feet Deep Pit Dug For Bridge Construction Along With His Bike.

लापरवाही:पुल निर्माण के लिए खोदे गए 20 फीट गहरे गड्ढे में बाइक सहित गिरकर युवक की मौत

गुना/ झागर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गुना। झागर के पास बन रही पुलिया में गिरे  युवक को ऊपर से देखते ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
गुना। झागर के पास बन रही पुलिया में गिरे युवक को ऊपर से देखते ग्रामीण।

जिले में 24-25 जनवरी की दरमियानी रात हादसा झागर के पास परवाह रोड पर एक निर्माणाधीन पुल की नींव के लिए खोदे गए गड्ढे में बाइक सवार युवक की गिरकर मौत हो गई। हादसे का सही समय पता नहीं चल सका।

लोगों ने सुबह करीब 7 बजे उसकी लाश गड्ढे में देखी। बाद में पुलिस को इसकी सूचना दी गई। इस मामले में ठेकेदार की लापरवाही सामने आ रही है। उसने निर्माणस्थल पर कोई चेतावनी बोर्ड नहीं लगाया था। न ही सुरक्षा के अन्य कोई इंतजाम ही थे।

दूसरी ओर पुलिस का कहना है कि युवक नशे में था। सिरसी थाना क्षेत्र के माना गांव में भी बाइक से जा रहे दो युवकों की पुलिया में गिरकर मौत हो गई। वहीं एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया।

1.75 करोड़ की लागत से बन रहा है पुल: झागर के पास परवाह रोड पर यह पुल 1.75 करोड़ की लागत से बन रहा है। एक माह पहले इसका काम शुरू हुआ था। एक लोकल नाले पर बन रहे इस पुल का ठेका गुना के जयंत गुप्ता को मिला है।

उनसे बात की गई तो उन्होंने यह माना कि मौके पर उनके द्वारा कोई बोर्ड आदि नहीं लगाया गया। हालांकि उन्होंने कहा कि जिस बाइक सवार के साथ यह हादसा हुआ, वह उसी दिन दो-तीन बार वहां से गुजरा था। उसका अपनी पत्नी से विवाद चल रहा था। इसी के चलते रात को उसने नशा कर लिया होगा।

तीन बाइक सवार युवक पुलिया में गिरे
सिरसी थाना क्षेत्र में भी 24-25 जनवरी की दरमियानी रात को हादसे में दो युवकों की मौत हो गई। श्यामपुर निवासी 20 वर्षीय चंदन पटेलिया और उदयपुरी निवासी 30 वर्षीय बबलू बारेला अपने एक अन्य दोस्त निर्मल के साथ शादी समारोह में शामिल होकर वापस लौट रहे थे।

तीनों युवक रास्ते में स्थित एक पुलिया से गुजरे और बाइक अनियंत्रित होकर गिर गई। दुर्घटना में तीनों युवक गंभीर रूप से घायल हुए थे। जिन्हें स्थानीय लोगों ने तत्परता दिखाते हुए जिला अस्पताल पहुंचाया। लेकिन उपचार शुरु होने से पहले ही चंदन पटेलिया और बबलू बारेला की मौत हो चुकी थी।

इस हादसे में निर्मल गंभीर रूप से घायल हुआ है। परिजनों ने बताया है कि तीनों युवक जब देर रात घर नहीं पहुंचे तो उन्होंने मोबाइल पर फोन जानकारी लेना चाही थी, तभी ग्रामीणों ने उनका फोन उठाकर हादसे की जानकारी दी।

लापरवाही का मामला दर्ज करेंगे

अभी तो हमने मर्ग कायम किया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट और जांच के बाद हम ठेकेदार के खिलाफ धारा 304 ए के तहत प्रकरण भी दर्ज कर सकते हैं।
- उत्तम राजावत, चौकी प्रभारी झागर

पुलिस ने कहा- युवक शाम को उसी जगह से एक बार गुजरा था
झागर चौकी प्रभारी उत्तम राजावत ने बताया कि मृतक का नाम भगवान सिंह पुत्र हरिवल्लभ किरार (28 साल) निवासी झागर है। शुरुआती जानकारी के अनुसार वह मंगलवार शाम को 4 बजे घर से बांसखेड़ी स्थित उसकी ससुराल जाने के लिए निकला था।

यह गांव झागर से महज 10 किमी दूर है। मंगलवार रात को ही 11 बजे के आसपास गश्त कर रहे चौकी के कुछ पुलिसकर्मियों को भी वह मिला था। जब उससे इस तरह घूमने की वजह पूछी गई तो उसने कहा कि वह ससुराल (बांसखेड़ी) जा रहा है। उन्होंने बताया कि युवक उसी जगह से कम से कम एक बार गुजरा था। संभवत: पारिवारिक विवाद के बाद उसने नशा किया होगा, जिससे यह हादसा हो गया।

ग्रामीण बोले- निर्माणस्थल की स्थिति खतरनाक, नहीं लगाया साइन बोर्ड

निर्माणस्थल के आसपास ठेकेदार ने कोई साइन बोर्ड नहीं लगाया है। यही नहीं उसने निर्माणस्थल को आसपास मिट्‌टी का ढेर लगाकर सुरक्षित भी नहीं किया। कोई भी व्यक्ति जिसे वहां हो रहे काम की जानकारी न हो, देर रात को गुजरते हुए सीधे गड्ढे में गिर सकता है।

पुल के पास जो डायवर्सन रोड बनाई है, वह भी कच्ची है। रात में उसे देखना संभव नहीं होता। इस घटना के वायरल हुए वीडियो में गांव वाले कहते सुने जा सकते हैं कि उन्हें इस तरह के हादसे की आशंका पहले से ही थी।

खबरें और भी हैं...