• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Guna
  • Meeting Veterans Who Are Contending For The Post Of District Panchayat President; Who, Where, Met Whom, Know...

गुना के नेताओं की 'दिल्ली दौड़':जिला पंचायत अध्यक्ष पद के दावेदार कर रहे दिग्गजों से मुलाकात; कौन, कहाँ, किस से मिला, जानिए...

गुना7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला पंचायत के परिणाम घोषित होते ही अब अध्यक्ष पद को लेकर प्रयास शुरू हो गए हैं। गुना जिला पंचायत में भाजपा का बोर्ड बनना तय माना जा रहा है। 18 में से 13 वार्डों में भाजपा समर्थकों ने जीत दर्ज की है। केवल 3 वार्डों में कांग्रेस समर्थकों का कब्जा हुआ है। वहीं एक जयस और एक निर्दलीय प्रत्याशी जीतकर आये हैं। जिला पंचायत अध्यक्ष पद OBC के लिए आरक्षित है। इस वर्ग के 8 प्रत्याशी चुनाव जीतकर आये हैं। परिणाम घोषित होते ही अध्यक्ष पद के दावेदारों ने भोपाल से लेकर दिल्ली तक कि दौड़ लगाना शुरू कर दी है। वह तमाम दिग्गज नेताओं के मिलकर अपनी-अपनी गोटी फिट करने में लगे हैं। हालांकि सभी विजेता इसे सौजन्य मुलाकात बता रहे हैं। पिछले 3 दिनों में किस विजेता ने किस नेता से कहाँ मुलाकात की, जानिए...

ममता-रघुवीर मीना: जिला पंचायत के वार्ड 16 से रघुवीर मीना ने जीत दर्ज की है। वहीं उनकी पत्नी पूर्व विधायक ममता मीना वार्ड 18 से विजयी हुई हैं। रघुवीर मीना अध्यक्ष पद के लिए दावेदारी कर रहे हैं। पिछले 3 दिनों में दोनों ने प्रदेश के मुखिया CM शिवराज सिंह चौहान से भोपाल में मुलाकात की। वह दोनों BJP संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा से भी मिले। दोनों ने केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से मुलाकात की है। इसके अलावा उन्होंने प्रदेश के पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया से भी मुलाकात की है।

CM शिवराज सिंह से मिलते मीना दंपत्ति।
CM शिवराज सिंह से मिलते मीना दंपत्ति।

महेंद्र किरार: जिला पंचायत के वार्ड 8 से महेंद्र किरार विजेता हुए हैं। उन्होंने 5257 वोटों से जीत दर्ज की है। वह भी कई नेताओं से मुलाकात कर चुके हैं। उन्होंने हाल ही में दिल्ली में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से मुलाकात की। वह अपने बड़े भाई पूर्व जिला पंचायत उपाध्यक्ष देवेंद्र किरार के साथ शुक्रवार को दिल्ली पहुंचे। किरार बमोरी इलाके से चुनाव जीतकर आये हैं। उन्होंने भोपाल में भी कुछ भाजपा नेताओं से मुलाकात की है।

महेंद्र किरार ने केंद्रीय मंत्री सिंधिया से मुलाकात की।
महेंद्र किरार ने केंद्रीय मंत्री सिंधिया से मुलाकात की।

आरती मोहनराज मीना: जिला पंचायत के वार्ड क्रमांक 9 से आरती मीना जीतकर आयी हैं। वह सबसे युवा जिला पंचायत सदस्य बनी हैं। उनके ससुर विट्ठलदास मीना सिंधिया के करीबी माने जाते हैं। वह खुद भी जिला पंचायत उपाध्यक्ष रह चुके हैं। उन्होंने भी दिल्ली पहुंचकर केंद्रीय मंत्री सिंधिया से मुलाकात की। अपने पुत्र मोहनराज मीना के साथ वह दिल्ली पहुंचे। इस मुलाकात का एक वीडियो भी उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर किया है।

सिंधिया से मुलाकात करने दिल्ली पहुंचे विट्ठलदास मीना।
सिंधिया से मुलाकात करने दिल्ली पहुंचे विट्ठलदास मीना।

संतोष धाकड़: वार्ड क्रमांक 3 से संतोष धाकड़ चुनाव जीते हैं। उनके प्रतिद्वंदी के रूप में भी भाजपा समर्थक प्रत्याशी ही सामने थे। उन्होंने पूर्व विधायक स्व देवेंद्र सिंह के पुत्र शैलेन्द्र रघुवंशी, सांसद केपी यादव के प्रतिनिधि सचिन शर्मा को हराया है। उन्होंने 1278 वोट से चुनाव जीता। संतोष धाकड़ ने शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री सिंधिया से मुलाकात की। गुना के पूर्व विधायक पन्नालाल शाक्य के साथ वह दिल्ली पहुंचे। वहां सिंधिया से उनकी मुलाकात हुई।

संतोष धाकड़ ने भी सिंधिया से मुलाकात की।
संतोष धाकड़ ने भी सिंधिया से मुलाकात की।

अरविंद धाकड़: जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए वह सबसे प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं। जिला पंचायत चुनाव में वह सबसे ज्यादा वोटों से जीतने वाले प्रत्याशी बने हैं। उनके पिता राधेश्याम धाकड़ सीधे CM के विश्वसनीय माने जाते हैं। लंबे समय से वह भाजपा में सक्रिय हैं। वह राघोगढ़ से जयवर्धन सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ चुके हैं। हालांकि उनको चुनाव में हार का सामना करना पड़ा था। इस बार उनके पुत्र अध्यक्ष पद की दौरदारी कर रहे हैं। उन्होंने भी भोपाल में CM सहित कई नेताओं से मुलाकात की है। हालांकि, उनकी मुलाकात के फोटो सामने नहीं आये हैं।

सिंधिया की रहेगी भूमिका!

बता दें कि गुना जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में केंद्रीय मंत्री सिंधिया की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। जो भी अध्यक्ष बनेगा, उसमे उनकी सहमति आवश्यक रूप से रहेगी। हालांकि उनके समर्थक नेता और पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया पूरे घटनाक्रम पर नजर बनाए गए हैं। उनसे भी कई दावेदार मुलाकात कर अपनी-अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं।