यात्रियों से मनमाना किराया वसूली:ट्रैक्टर, बसों, पिकअप और मिनी ट्रक में चल रही है ओवरलोडिंग

झागर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ग्रामीण क्षेत्र में चलने वाले वाहनों में आए दिन लोगों को खतरनाक तरीके यात्री वाहनों में छतों पर बैठाकर सफर कराया जा रहा है। जिससे लोगों की जान का खतरा बना रहता है। यात्री बसों और टैक्सियों में क्षमता से अधिक सवारियों को ठूंस-ठूंसकर ढोया जा रहा है।

यात्रियों से मनमाना किराया वसूली की शिकायतें प्रकाश में आती रहती हैं। दर्जनों की संख्या में वाहन बगैर परमिट टैक्सी के रूप में दौड़ रहे हैं एवं शासन को राजस्व की क्षति भी हो रही है। यात्री बसों में क्षमता से अधिक सवारियां ढोई जा रही हैं।

ऐसा नहीं है कि यह यात्री वाहन कुछ ज्यादा दूर के क्षेत्र में चल रहे हों। यह यात्री वाहन नियमित रूप से ओवरलोडिंग करते हुए नजर आ रहे हैं। वहीं इन वाहनों पर कोई नंबर भी दर्ज नहीं होने के बाद कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। झागर बमोरी क्षेत्र में ऐसे वाहन आम हो गए हैं।

वहीं टैक्सी चालक भी जीप में सवारियों को लटका कर बेखौफ वाहन चला रहे हैं। बस एवं टैक्सी चालकों द्वारा मनमाना किराया वसूली किए जाने से उनका यात्रियों से आए दिन विवाद होता रहता है। बसों में यात्री किराया सूची चस्पा करने संबंधी जारी किए गए आदेश का भी बस मालिकों द्वारा पालन नहीं किया गया है। इससे दुर्घटनाएं बढ़ रही हैं।

खबरें और भी हैं...