• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Guna
  • The Children Were Horrified, The Villagers Were Angry With Fear; People Coming Out Of The Landed Houses Of The Accused

विदौरिया गांव में सन्नाटा:बच्चे सहमे, गांव वालों में भय के साथ आक्रोश भी; आरोपियों के जमींदोज घरों पर से निकल रहे लोग

विदौरिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बबलू की पत्नी और बच्चे घर टूटने से सड़क पर आ गए। - Dainik Bhaskar
बबलू की पत्नी और बच्चे घर टूटने से सड़क पर आ गए।

तीन पुलिसकर्मियों की हत्या और दो आरोपियों की मौत के बाद से विदौरिया गांव में डर पसरा है। यहां भारी पुलिस बल तैनात है। भास्कर टीम जब पहुंची तो आरोपी नौशाद और उसके सहयोगियों के जमींदोज घरों पर से लोग गुजरते दिखे। यहां लोगों में भय के साथ आक्रोश भी है। बशीर खान के बेटे की शादी 21 मई को है। वे कहते हैं कि नौशाद, शहजाद के कारण पूरे गांव को शक की निगाहों से देखा जा रहा है। अल्ताफ और बबलू का घर तोड़ना तो हैरान करने वाला है।

अल्ताफ की पत्नी रेशमा कहती है- हमें तो सामान निकालने का मौका भी नहीं मिला। बिना पड़ताल किए ही हमारे घर तोड़ दिए। गांव वाले बताते हैं कि अगले 10 दिन में यहां तीन शादियां थीं। सब टल गईं। सबसे पहली नौशाद की भतीजी अरसी की थी। फिर 22 और 27 मई को भी शादियां थीं। 16 मई को मजीद खां के बेटे का रिसेप्शन था। लेकिन सब टल गया। कई घरों में मेहमान आ गए थे, जो अब लौट गए हैं। अब सारे आयोजन राघौगढ़ में करेंगे। रविसुबह 11 बजे अचानक गतिविधियां बढ़ी और लोग दूर खेतों में बने एक कुएं के पास जुट गए। अफवाह थी कि इस कुएं में पुलि से लूटी गई इंसास राइफल और अन्य हथियार मिले हैं। लेकिन करीब तीन घंटे तक कुआं खंगालने के बाद भी कुछ नहीं मिला। बता दें कि शहरोक और मौनबड़ा के जंगल में शुक्रवार-शनिवार की रात शिकारी नौशाद और उसके साथियों ने सब इंस्पेक्टर राजकुमार जाटव, एएसआई नीरज भार्गव, कांस्टेबल संतराम मीना की हत्या कर दी थी। हालांकि नौशाद घटनास्थल पर ही पुलिस फायरिंग में मारा गया, जबकि उसके बेटे शहजाद का शाम को एनकाउंटर कर दिया गया। दो आरोपी अभी गिरफ्त में हैं।